भावुक हो गई प्रज्ञा ठाकुर, रोते हुए कहा- ‘मेरे एनकाउंटर की चल रही थी साजिश’

crying-sadhvi-pragya-thakur-in-bhopal-while-addressing-the-party-workers

भोपाल। भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने उम्मीदवारी घोषित होने के अगले ही दिन तैयारी तेज कर दी है| कार्यकर्ताओं के बीच पहुंचना शुरू कर दिया है| इस बीच साध्वी प्रज्ञा  कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए भावुक हो गई और रो पडी| मालेगांव विस्‍फोट मामले में पुलिस की कथित प्रताड़ना की कहानी सुनाते हुए प्रज्ञा ठाकुर के आंसू निकल गए| उन्होंने कहा कि मुझे गैरकानूनी तरीके से जेल में 13 दिन तक रखा और  बहुत प्रताड़ित किया जाता था, बेल्ट से पीटा जाता था, गन्दी गालियां दी जाती थी उलटा भी लटका देते थे|  साध्वी ने कहा उनके खिलाफ षड्यंत्र रचा गया। इस दौरान ने उन्होंने दिग्विजय सिंह और अन्य कांग्रेस नेताओं पर भी निशाना साधा| 

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने कहा है कि वो मेरा एनकाउंटर करना चाहते थे। कई दिन तक मैं पानी पीकर रही। बिना अन्न का एक दाना खाए। हर बार मुझसे केवल एक ही सवाल पूछा जाता था। तुमने बम विस्फोट किया है, तुमने मुसलमानों को मारा है। पूछने के लिए कोई दूसरा सवाल नहीं था। फिर कहा- तुम आतंकवादी हो, आरएसएस आतंकवादी संगठन हैं। साध्वी ने कहा वो कहलवाना चाहते थे कि तुमने एक विस्फोट किया है और मुस्लिमो को मारा है| सुबह हो जाती थी पीटते पीटते, लोग बदल जाते थे पीटने वाले, लेकिन पिटने वालों मैं सिर्फ अकेली रहती थी| उन्होंने कहा मैं अपनी पीड़ा नहीं सुना रही हूं, लेकिन आगे और किसी बहन को इसके बाद इस पीड़ा का सामना न करना पड़े| 

इससे पहले उन्होंने एक बयान में  कहा कि इस बार चुनाव वे नहीं पूरा भोपाल लड़ रहा है। उन्‍होंने कहा कि राष्ट्रधर्म मुद्दा है। जब राष्ट्र सुरक्षित होगा तो देश भी सुरक्षित रहेगा। सुशासन और पूर्ण स्वराज के साथ सम्मान भी इस देशवासियों को मिलेगा। हिंदू आतंकवाद के सवाल पर प्रज्ञा सिंह ठाकुर का कहना था कि यह नाम दिग्विजय सिंह ने दिया है जो कि गलत है और अब वह खुद ही हिंदू होने का नाटक कर रहे हैं।