केजरीवाल का पत्नी को बर्थडे गिफ्ट

100

केजरीवाल की हैट्रिक

दिल्ली के दंगल में AAP ने बीजेपी-कांग्रेस को दी पटखनी, देखिए किसे मिली कितनी सीटें                      दिल्ली विधानसभा में चुनाव में आम आदमी पार्टी की ऐसी सुनामी आई की भारतीय जनता पार्टी ने दहाई का आकड़ा नहीं पार कर पाई और 15 साल दिल्ली में शासन करने वाली सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस का तो खाता ही नहीं खुला। 48 सीट का दावा करने वाली बीजेपी को महज 8 सीट में ही संतोष करना पड़ा। तो वहीं AAP ने 62 सीट जीतकर दिल्ली का दंगल अपने नाम कर लिया। AAP की बंपर जीत हुई तो दिल्ली से देवरिया तक इंदौर से वाराणसी तक ढोल- नगाड़े बजने लगे, मिठाइयां बटने लगी कार्यकर्ता खुशी के मारे झूम उठे। जीत के बाद केजरीवाल कार्यकर्ताओं के सामने आए और उन्हें जिताने के लिए धन्यवाद कहा।

केजरीवाल के लिए आज का दिन बेहद खास
केजरीवाल के लिए आज का दिन बेहद खास था और खास इसलिए रहा क्योंकि आज ही अरविंद केजरीवील की पत्नी सुशीला केजरीवाल का जन्मदिन भी है और केजरीवाल ने जन्मदिन में जीत का तोहफा दिल्ली जीतकर दी है।

मनोज तिवारी ने हार की ली जिम्मेदारी
दिल्ली प्रदेश के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने मीडिया के सामने आकर कहा की हम हार की जिम्मेदारी लेते हैं। यही मनोज तिवारी दिल्ली में 48 सीट का जीतने का दावा कर रहे थे लेकिन 8 सीट में ही उन्हें संतोष करना पड़ा।

बीजेपी की हार की बड़ी वजह
दिल्ली में चुनावी रैली के दौरान बीजेपी नेताओं द्वारा की गई बयानबाजी से खफा दिल्ली की जनता का मूड़ बदल गया और सका फायदा AAP को मिला, तो वहीं हार की दूसरी वजह ये भी है की पीएम मोदी दिल्ली में उतनी मेहनत नहीं की जितनी दूसरे राज्यों में करते हैं। हार की तीसरी वजह शाहीन बाग भी है जहां पिछले 60 दिन से लोग धरने पर बैठे हैं लेकिन बीजेपी का कोई नेता वहां जाना उचित नहीं समझा और यही सारी वजह बीजेपी की हार की कारण बनी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here