देवास/सोमेश उपाध्याय

मध्यप्रदेश भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और खंडवा लोकसभा से 6 बार के वरिष्ठ सांसद नन्दकुमार सिंह चौहान को केंद्र की मोदी सरकार में मंत्री बनाने की मांग उठ रही है। दरअसल, सांसद-समर्थकों का कहना है कि नन्दू भैया संगठन के वरिष्ठ नेता है। वहीं उनके पक्ष में और भी कई बातें जाती हैं। संघ पृष्ठभूमि से जुडे़ चौहान जहां पुराने जनसंघी हैं,  जलसंसाधन व ऊर्जा मंत्रालय की प्राकलन कमेटी के सदस्य भी है।

सबसे अहम उनकी बेदाग छवि और केन्द्रीय नेतृत्व से करीबी है। व्यवस्थित कार्यशैली और लम्बा राजनेतिक अनुभव उनका मजबूत पक्ष है। सांसद चौहान ने पिछली बार कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव को 2 लाख 73 हजार मतों  से  भारी शिकस्त दी थी।  चौहान को कुल 8 लाख 38 हजार 909 मत प्राप्त हुए थे। चूंकि भाजपा जल्द ही ज्योतिरादित्य सिंधिया को उपकृत करने के लिए केंद्रीय मंत्री मण्डल का विस्तार करेंगी। ऐसे में चौहान को यदि जगह मिलती है तो निमाड़ में पार्टी मजबूत बनेंगी।

समर्थकों का दावा है कि देश मे छठी बार चुनाव जीतने वाले चुनिंदा छह सांसदों में से नन्दू भैया एक है। हाल ही में खंडवा लोकसभा की मान्धाता सीट से कांग्रेस विधायक नारायण पटेल  भी पार्टी छोड़ भाजपा में शामिल हो चुके है। ऐसे में यहां उपचुनाव भी प्रस्तावित है।

बरहाल समर्थकों को अब भी इंतजार है कि टीम मोदी में नन्दू भैया को जगह मिलेगी। बरहाल चौहान को जगह मिलती है या नही यह तो केंद्रीय नेतृत्व और स्वयं प्रधानमंत्री मोदी तय करेंगे पर समर्थकों की इस मांग से क्षेत्र में एक नया समीकरण जरूर बना दिया है।

अब उठने लगी MP के इस वरिष्ठ सांसद को मंत्री बनाने की मांग