भोपाल।

कोरोना महामारी के बीच जनता के हित के लिए अब प्रदेश के भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने ट्वीट कर मुख्यमंत्री चौहान से कुछ मांग की है। भाजपा विधायक शर्मा ने कहा है कि कोरोना संकटकाल में मध्यप्रदेश के विधायकों को भी अपने वेतन का 30% हिस्सा विपदा की घड़ी में मदद के लिए देनी चाहिए।

भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने गुरुवार को ट्वीट करते हुए लिखा कि कोरोना संकट से लड़ने के लिए जिस प्रकार सांसदों के वेतन में 30% की कटौती की गई है। मुझे ऐसा लगता है कि मध्य प्रदेश के सभी विधायकों को भी अपने वेतन से 30% वेतन इस विपदा की घड़ी में देने पर सहमति देनी चाहिए। विधायक शर्मा ने मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि वह इस विचार पर निर्णय लें।

बता दें कि सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मोदी कैबिनेट की अहम बैठक में दो बड़े निर्णय लिए गए थे। जिसमें 1 साल तक सांसदों को 30% कम सैलरी दी जाएगी वहीं दूसरे फैसले में 2 साल के लिए एमपीएलएडी फंड को खत्म कर दिया जाएगा। जिसके बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना से निपटने के लिए अपने साल भर के वेतन का 30% हिस्सा जनता की मदद के लिए देने का ऐलान किया था। वहीं मुख्यमंत्री ने सभी वर्गों से अपील भी की थी कि अपने खर्चों में कटौती कर कोरोना संकट से जूझने के लिए मुख्यमंत्री सहायता कोष को प्रदान करें।