ज्योतिरादित्य सिंधिया : तूफान में फंसे विमान को लेकर डीजीसीए ने जांच के लिए गठित की टीम

रविवार को मुंबई से पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर के लिए उड़ान भरने वाला स्पाइस जेट का विमान तूफान में फंस गया था, जिसके कारण विमान में बैठे करीब 40 यात्री घायल हो गए, जिनमें में से 12 यात्रियों को गंभीर चोट आई है।

दुर्गापुर, डेस्क रिपोर्ट। रविवार को मुंबई से पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर के लिए उड़ान भरने वाला स्पाइस जेट का विमान तूफान में फंस गया था, जिसके कारण विमान में बैठे करीब 40 यात्री घायल हो गए, जिनमें में से 12 यात्रियों को गंभीर चोट आई है।

इसी बीच अब डीजीसीए (Directorate General of Civil Aviation) ने इस मामले की जांच के लिए एक टीम गठित की है। इस बात की पुष्टि नागरिक उड्डयन मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने की। उन्होंने ट्वीट करते हुए बताया, “दुर्गापुर में उतरते समय एक फ्लाइट को हुई अशांति और यात्रियों को हुई क्षति दुर्भाग्यपूर्ण है। घटना की जांच के लिए एक टीम भेजी है। मामले को बेहद गंभीरता और चतुराई से निपटाया जा रहा है।”

उन्होंने इसके बाद एक और ट्वीट किया, जहां उन्होंने लिखा, “जांच पूरी होने के बाद कारणों के बारे में अधिक जानकारी साझा की जाएगी।”

 

क्या है पूरा मामला

दरअसल, रविवार की शाम स्पाइसजेट के बोइंग 737 -800 विमान ने मुंबई से दुर्गापुर के काजी नजरूल इस्लाम एयरपोर्ट के लिए उड़ान भरी लेकिन दुर्गापुर में लैंडिंग के दौरान 189 सीट वाला विमान तूफान की चपेट में आ गया, जिस कारण 40 लोग घायल हो गए। सूत्रों के मुताबिक जब विमान तूफान में फंसा तब सभी यात्री घबरा गए थे और केबिन में रखा सारा समान यात्रियों पर गिर गया, जिसके कारण यात्रियों को चोटें आईं। दुर्गापुर पहुंचने पर घायल लोगों को को पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है।

जानकारी के अनुसार विमान ने मुंबई से दुर्गापुर के लिए रविवार शाम करीब 5 बजे उड़ान भरी थी, लेकिन जैसी ही 2 घंटे बाद विमान दुर्गापुर के काजी नजरुल इस्लाम एयरपोर्ट के नजदीक पहुंचा तो तूफान के कारण विमान में झटके लगने लगें। अंत में विमान ने 7.15 बजे एयरपोर्ट पर लैंडिंग की।