सिंधिया के समर्थन मे उतरे दिग्गी, बोले-पब्लिक सर्वेंट कांग्रेस में नहीं होते क्या

भोपाल।

कांग्रेस के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के ट्वीटर स्टेटस बदलने पर प्रदेश में जमकर सियासत हो रही है। कई तरह की अफवाहों ने जोर पकड़ रखा है।हालांकि सिंधिया सभी अफवाहों और दावों को खारिज कर चुके है। उन्होंने साफ कह दिया है कि उन्होंने ऐसा लोगों की सलाह पर किया। इसी बीच कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने बड़ा बयान दिया है। दिग्विजय सिंह ने कहना है कि उन्होंने प्रोफाइल में गलत क्या लिखा है, सही लिखा है। 

दरअसल, दिग्विजय सिंह ने कांग्रेस के राष्‍ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया का ट्विटर हैंडल बदलने का बचाव किया है। उन्होंने कहा कि प्रोफाइल में गलत क्या लिखा है, सही लिखा है। मै भी अपनी प्रोफाइल छोटी करता हूं। इसमें क्या गलत है, हर व्यक्ति को ट्विटर हैंडल पर अपने बारे में लिखने का अधिकार है। पब्लिक सर्वेंट कांग्रेस में नहीं होते क्या।वही उन्होंने सिंधिया के बीजेपी में जाने की अटकलों को लेकर कहा कि सिंधिया ने भी साफ कर दिया वह कांग्रेस के हैं, थे और रहेंगे। बेमतलब हर बात में राजनीति नहीं देखनी चाहिए।

गौरतलब है कि  मध्य प्रदेश कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सोमवार को सिंधिया ने ट्विटर अकाउंट से अपना ‘कांग्रेसी परिचय’ हटा दिया है। अपने नए बायो में उन्होंने खुद को सिर्फ जनसेवक और क्रिकेट प्रेमी बताया है। इससे पूर्व सिंधिया ने अपने ट्‍विटर प्रोफाइल पर अपना पद कांग्रेस महासचिव 2002-2019 लिखा था।अचानक सिंधिया के ट्‍विटर पर यूं प्रोफाइल पर पद बदलने से सियासत गर्माई हुई है। हालांकि सिंधिया ने साफ कह दिया है कि उन्होंने एक महीने पहले इसमें बदलाव किया था।। लोगों की सलाह पर मैंने अपनो बायो को छोटा किया है। इसको लेकर जो भी अफवाह फैलाई जा रही है वह आधारहीन है।