दिग्विजय का शिवराज सरकार पर आरोप, कहा- 15 सालों से शासकीय जमीन पर हो रही हेराफेरी

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (former cm digvijay singh) ने शिवराज सरकार (shivraj government) पर कड़ा निशाना साधा है। उन्होने ट्वीट करते हुए कहा है कि बीजेपी शासनकाल में शासकीय जमीनों में पड़े पैमाने पर हेराफेरी हुई है। यह कहानी उजागर करना है और वे इसपर रिसर्च कर रहे हैं।

दिग्विजय का शिवराज सरकार पर आरोप, कहा- 15 सालों से शासकीय जमीन पर हो रही हेराफेरी

प्रदेश में जारी बारिश के दौर ने कई जिले में बाढ़ के हालात पैदा कर दिए है। भोपाल में भी बारिश ने काफी तबाही मचाई थी। बाढ़ के हालातों को देखते हुए शासन-प्रशासन पूरी तरह से प्रयासरत है। वहीं 31 अगस्त भारी बारिश के कारण कलियासोत डैम के 12 गेट खोल दिए गए थे, जिसके चलते निचली बस्ती में पानी भर जाने से काफी नुकसान हुआ था, साथ ही दीवार गिर जाने से एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। वहीं उसी मुद्दे को उठाते हुए प्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने ट्वीट किया है।

पूर्व सीएम ने अपने ट्वीट में लिखा कि 31 अगस्त को भोपाल में कोलार क्षेत्र में हुई भारी वर्षा के कारण कलियासोत बॉंध के सभी 12 गेट अचानक खोलने से दामखेडा के गरीब लोगों की बस्ती में पानी भरने से भारी नुक़सान हुआ। एक बिल्डर की बनाई हुई दीवार गिरने से एक गरीब की मौत हो गई।

 

आगे उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया कि 24 जून को वहीं दीवार एक और जगह से गिरने से एक और मकान की क्षति हुई थी और उसका स्कूटर भी टूट गया था। लेकिन प्रशासन भाजपा के दबाव में चुप है। उसे आज तक कोई मुआवज़ा नहीं मिला। बिल्डर के ख़िलाफ़ पुलिस के FIR करनी थी वह भी नहीं की गई।

 

आगे उन्होंने ट्वीट करते हुए बताया कि उस दीवार का निर्माण इतना घटिया है कि उसी बिल्डर के द्वारा बनाई हुई मल्टी स्टोरी बिल्डिंग भी ख़तरे में है। मैंने तय किया है उस बिल्डर के विरुद्ध FIR दर्ज कराने मैं कल ३ सितंबर को कोलार थाने जाऊंगा।