दिग्विजय सिंह ने तोड़ी चुप्पी, शिवराज को दी खुले मंच पर बहस की चुनौती

digvijay-scathing-attack-on-shivraj

भोपाल। राजधानी भोपाल से कांग्रेस की ओर से चुनावी रण में उतरे पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने टिकट मिलने के बाद अब चुप्पी तोड़ते हुए बीजेपी पर हमला बोला है। उन्होंने भाजपा पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि उनसे बीजेपी डरती है। उन्होंने पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान को चुनौती देते हुए कहा कि वह उनसे खुले मंट पर बहस क्यों नहीं करते हैं। ये बात दिग्विजय सिंह ने मीडिया से चर्चा के दौरान कही।

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी को उनके भोपाल से चुनाव लड़ने की वजह से डर रही है। इस बार राष्ट्र का चुनाव है। भाजपा के पांच साल के रिपोर्ट कार्ड पर चुनाव होगा। उन्होंंने मोदी सरकार के 2014 में जनता से किए गए वादों का जिक्र करते हुए कहा कि बेरोज़गारी,अर्थव्यवस्था, शिक्षा, खाते में 15 लाख पहुंचाने का वादा, विदेशों में काला धन, चुनावी मुद्दे रहेंगे। उन्होंने पीएस मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि इस बार का चुनाव मोदी के कुशासन के खिलाफ लड़ा जाएदा। 

यही नहीं दिग्विजय ने पूर्व सीएम पर नाशाना साधते हुए उन्हें वन टू वन बहस के लिए चुनौती तक दे डाली। उन्होंने कहा कि शिवराज मुझसे सार्वजनिक मंच पर बहस क्योंं नहीं करते हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी उनसे डरती है इसलिए उनके बारे में गलत बयानबाजी करती है। बीजेपी की ओर से लगातार सामने आ रही दावेदारियोंं पर भी उन्होंने बयान दिया। उन्होंने कहा कि मेरे खिलाफ जिसे चुनाव लड़ना है वह मैदान में आए। 

गौरतलब है कि कांग्रेस ने भोपाल से पूर्व सीएम और तीन साल प्रदेश अध्यक्ष रहे दिग्विजय सिंह को उम्मीदवार बनाया है। इस सीट पर कांग्रेस को अखिरी बार 1984 में जीत मिली थी। 1989 से यहां बीजेपी को जीत मिलती रही है। भोपाल अब भाजपा का गढ़ मानी जाती है। लेकिन 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में बीजेपी को तीन लाख से अधिक वोटों से जीत मिली थी। वहीं, हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में आठ विधानसभाओं का कुल वोट प्रतिशत घटा है। कांग्रेस बीजेपी से महज 50 हजार वोटों के अंतर पर है। राजनीति के पंडित इसे बीजेपी के लिए खतरे की घंटी बता रहे हैं।