दिग्विजय ने मंत्रियों को लताड़ा, ‘नर्मदा किनारे मैं पैदल चला हूं, मंत्री बताएं कितने KM चले’

digvijay-singh-attack-on-own-ministers-of-madhya-pradesh-

भोपाल। मप्र सरकार द्वारा भाजपा शासन काल में हुए मंदसौर गोलीकांड और नर्मदा किनारे पौधरोपण को लेकर विधानसभा में दिए गए जवाब पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय ने नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने वन मंत्री उमंग सिंघार को फटकार लगाते हुए कहा कि वे नर्मदा किनारे कितने दिन पैदल चले हैं, जो विधानसभा में ऐसा जवाब दे दिया हैं। बता दें कि जिन मुद्दों पर विपक्ष में रहकर कांग्रेस पिछली सरकार को घेरती थी, अब उन मुद्दों पर सरकार का यह रुख सवाल खड़े कर रहा है|

पूर्व मुख्यमंत्री ने आज राजधानी में पत्रकारों से चर्चा में जमकर नाराजगी जताई और गृहमंत्री बाला बच्चन और वन मंत्री उमंग सिंघार को फटकार लगाई है। दिग्विजय ने कहा कि मंदसौर गोलीकांड में कांग्रेस सरकार ने भाजपा को क्लीन चिट दे दी है। वहीं वन मंत्री द्वारा विधानसभा में यह जवाब देना कि नर्मदा किनारे पौधरोपण हुआ है, कोई भ्रष्टाचार नहीं हुआ, इस मामले में भी भाजपा को क्लीन चिट दे दी है। दिग्विजय ने वन मंत्री को नसीहत दी है कि वे नर्मदा किनारे जाकर देखें कि कितना पौधरोपण हुआ है। मैंने नर्मदा की परिक्रमा की है और देखा है कि कितना पौधरोपण हुआ है। मैं 3100 किलोमीटर पैदल चला हु मंत्री बताये कितना चले, पौधरोपण के नाम पर बहुत बड़ा भ्रष्टाचार हुआ है| वहीं कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने पुलवामा हमले पर नवजोत सिंह सिद्धू को सलाह दी है| इस पर दिग्विजय ने कहा कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री सिद्धू के मित्र हैं, इसलिए सिद्धू को सलाह दी है कि उन्हें समझाएं| 

गौरतलब है कि मंदसौर गोलीकांड पर बीजेपी और शिवराज सरकार को घेरने वाली कांग्रेस ने सत्ता में आते ही सुर बदल दिए हैं| गृह मंत्री बाला बच्चन ने मंदसौर गोलीकांड में प्रशासन को क्लीनचिट दे दी| सोमवार को विधानसभा में लिखित सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि मंदसौर में किसानों पर गोली कानूनी प्रक्रिया का पालन करते हुए आत्मरक्षा में चलाई गई थी। विधायक हर्ष विजय गेहलोत के सवाल के जवाब में बाला बच्चन ने कहा कि मंदसौर के पिपलिया मंडी थाना में 6 जून 2017 को हिंसक भीड़ को नियंत्रित करने के लिए आत्मरक्षा और सरकारी व निजी संपत्ति की सुरक्षा के लिए गोली चलाई गई थी।