गौर को कांग्रेस से ‘ऑफर’, इस सीट से लड़ेंगे लोकसभा चुनाव..?

digvijay-singh-offer-to-babulal-gaur-for-contest-loksabha-election-on-congress-ticket-

भोपाल| विधानसभा चुनाव में बीजेपी को पटखनी देने के बाद कांग्रेस ने अब लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा खेमे में नाराज नेताओं पर डोरे डालने शुरू कर दिए हैं| बीजेपी के कद्दावर नेता और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर से कांग्रेस ने संपर्क किया है| पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने गौर को भोपाल लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने का ऑफर दिया है। गौर ने खुद यह बात स्वीकार की है, उन्होंने कहा है कि वह इस ऑफर पर विचार करेंगे| गौर अपनी ही पार्टी के खिलाफ बयानबाजी करते रहे हैं, शिवराज सरकार के खिलाफ गौर कई बार मोर्चा खोल चुके हैं और विधानसभा चुनाव में भी टिकट कटने से नाराज होकर कई बार पार्टी के खिलाफ बयानबाजी कर चुके हैं| हालाँकि बहु को टिकट मिलने के बाद उनके तेवर कुछ ठन्डे हो गए थे| 

दरअसल, भाजपा का गढ़ बनी भोपाल लोकसभा सीट पर सेंध लगाने के लिए कांग्रेस को दमदार चेहरे की तलाश है| जो कांग्रेस को एक बड़ी जीत यहां दिला सके| लम्बे समय से यह सीट भाजपा के कब्जे में है| जिसके लिए हाल ही में अभिनेत्री करीना कपूर को भी चुनाव लड़ाने की मांग उठी थी, वहीं प्रियंका गाँधी को भी भोपाल से उतारने की मांग की जा रही है| इस बीच पार्टी से दरकिनार चल रहे बाबूलाल गौर से कांग्रेस ने संपर्क किया है| पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने भोपाल लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने का ऑफर दिया है।  बाबूलाल गौर को मिले आफर के बाद तरह-तरह की अटकलें लगना शुरू हो गई हैं। उनके लोकसभा चुनाव लड़ने की चर्चा तेज हो गई है| वहीं कांग्रेस के इस कदम से भाजपा में हड़कंप है| गौर के अलावा कई और ऐसा नेता भी हैं जो पार्टी के रुख से नाराज चल रहे हैं, कांग्रेस ऐसे नेताओं को ऑफर दे सकती है, जिससे एक बार फिर बीजेपी की मुश्किलें बढ़ सकती हैं | क्यूंकि विधानसभा चुनाव में भाजपा को अपनों से अधिक नुक्सान हुआ है| 

दिग्विजय प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद पिछले दिनों गौर के 74 बंगला स्थित आवास पर दोपहर भोजन के लिए गए थे। इसी दौरान दिग्विजय ने उन्हें कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण करते हुए लोकससभा सीट से चुनाव लड़ने का आफर दे दिया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गौर ने इस आफर को अब भी नहीं ठुकराया है। यह भी कहा है कि इस पर विचार करेंगे। गौर का कहना है कि उन्होंने दिग्विजय से सिर्फ इतना ही कहा है कि वे  विचार करेंगे। इस बारे में अब तक कोई फैसला नहीं लिया है।