Digvijay-wants-evidence-of-air-strike-of-iaf-Congratulations-to-Pakistan-PM-imran-khan

इंदौर| पुलवामा हमले के बाद भारतीय वायुसेना द्वारा की गई एयर स्ट्राइक ओर विंग कमांडर अभिनंदन की वतन वापसी के बाद अब देश में राजनीति होने लगी है, सबूत की मांग उठी है, इसको लेकर भाजपा कांग्रेस आमने सामने है, इस बीच दिग्विजय सिंह ने कहा यदि कोई सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांग रहा है तो भारत सरकार को सबूत देकर उनका मुंह बंद कर देना चाहिए। इतना ही नहीं विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान की रिहाई के लिए उन्होंने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को बधाई दे दी।

दरअसल, इंदौर के डेली कॉलेज के एल्यूमिनी मीट के लिए शहर पहुंचे दिग्विजय सिंह ने मीडिया से चर्चा की इस दौरान कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजयसिंह ने पाकिस्तान के पीएम इमरान खान की खुलकर तारीफ की वही उन्होंने भारत के पीएम मोदी को झूठा करार दिया। इंदौर में दिग्गी ने कहा कि अभिनंदन को भारत भेजना एक बड़ा कदम इमरान खान के लिए था क्योंकि उन्हें पाकिस्तानी और आईएसआई का विरोध का सामना करना पड़ा। वही उन्होंने ये भी कहा  कि इमरान को जल्द ही हाफिज सईद और मसूद अजहर को भारत को सौंप देना चाहिए| 

जाबांज विंग कमांडर अभिनंदन के भारत लौटने पर दिग्विजय ने खुशी भी जताई। इसके साथ ही उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधा और बीजेपी राष्ट्रीय महासचिव के बयानों को पर तीर चलाया और कहा कि वे भटक गए है। वही एयर स्ट्राइक सबूत को लेकर हो रही राजनीति पर कहा मैं इस पर सवालिया निशान नहीं लगा रहा हूँ लेकिन आज तकनीक का युग है| भारत सरकार को सेना की कार्रवाई का सबूत देकर इस पर सवाल उठाने वालों के मुंह में तमाचा मारना चाहिए। सैटेलाइट की तस्वीर से सब साफ़ हो जाएगा| उन्होंने पाकिस्तान सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा- इतने सबूत सौंपने के बाद भी पाक हाफिज सईद और अजहर मसूद पर कार्रवाई नहीं कर रहा है, उसे तो मुंबई हमले के बाद ही इन्हें भारत सरकार को सौंप देना चाहिए था। जिस तरह से अमेरिका ने ओसामा बिन लादेन को पकड़ने का प्रमाण दिया था, केंद्र सरकार को भी ऐसे ही प्रमाण देना चाहिए|