MP के मदरसों में हिन्दू बच्चों को मुस्लिम तालीम पर बोले शिक्षा मंत्री- जीवन से खिलवाड़ नहीं होने देंगे, 18 जून से शुरू होगा तीन दिवसीय स्कूल चलो अभियान

Atul Saxena
Published on -
Education Minister Uday Pratap Singh

MP News : एमपी के मदरसों में हिन्दू बच्चों को दी जा रही इस्लामी तालीम के खुलासे के बाद सरकार के कान खड़े हो गए हैं, मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने इसे बहुत गंभीरता से लिया है और निर्देश दिए हैं कि बच्चों के जीवन से किसी भी तरह का खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं होगा। स्कूल शिक्षा मंत्री प्रताप प्रताप सिंह मीडिया से बात करते हुए स्पष्ट किया कि सरकार पूरी स्थिति पर नजर रखे हुए है, उन्होंने एक और जानकारी देते हुए बताया कि कल 18 जून से तीन दिवसीय “स्कूल चलो अभियान” भी प्रदेश में शुरू किया जा रहा है।

NCPCR का दावा MP के मदरसों में 9417हिन्दू बच्चों को मिल रही इस्लामी तालीम 

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग NCPCR के अध्यक्ष प्रियंक कानूनगो ने पिछले दिनों मध्य प्रदेश के मदरसों में हिन्दू बच्चों को दी जा रही इस्लामी तालीम का खुलासा कर सरकार को चौंका दिया था। उन्होंने मीडिया को बताया था मध्य प्रदेश में कुल 1755 पंजीकृत मदरसे हैं जिसमें 9417 हिन्दू बच्चे पढ़ते हैं जिन्हें इस्लामी तालीम दी जा रही है, ये गलत है इसपर तत्काल सरकार को एक्शन लेना चाहिए।

स्कूल शिक्षा मंत्री ने कहा सरकार सतर्क, बच्चों के जीवन से खिलवाड़ नहीं होगा 

NCPCR के संज्ञान के बाद सरकार एक्शन में आई और जाँच की बात कही, बाल आयोग के अध्यक्ष के दावों के सवाल पर स्कूल शिक्षा मंत्री उदय प्रताप सिंह ने आज मीडिया से कहा कि हम लगातार मॉनिटर कर रहे हैं किसी भी प्रकार से कोई भी विसंगति पाई जाएगी तो कार्रवाई होगी। मुख्यमंत्री जी के स्पष्ट निर्देश है कि बच्चों के जीवन के साथ किसी भी क़िस्म का कोई भी खिलवाड़ नहीं किया जाएगा, उनके शिक्षण की व्यवस्था बच्चों की संख्या, वहाँ के परिवेश और किस परिस्थितियों में बच्चे पढ़ रहे हैं सब को हम मॉनिटर कर रहे हैं, सरकार सजग है और सतर्कता के साथ काम कर रही है।

18, 19 , 20 जून को प्रदेश में चलेगा “स्कूल चलो अभियान” 

स्कूलों के नए सत्र को लेकर स्कूल शिक्षा मंत्री उदय प्रताप ने कहा कि हम पूरे मध्य प्रदेश में 18,19 और 20 जून को तीन दिनों तक  “स्कूल चलो अभियान” चलाने जा रहे हैं। इसमें मुख्यमंत्री जी से विचार विमर्श करने के बाद हमने एक बड़ा फ़ैसला लिया है जिसमें पहले दिन कल 18 जून को स्कूल के बच्चों के साथ में संबंधित क्षेत्रीय विधायक, जनप्रतिनिधि और अधिकारी सब मिलकर इस अभियान की शुरुआत करेंगे, उसके अगले दिन 19 जून को बच्चों के साथ में जो स्कूल से पढ़े हुए पुराने बच्चे हैं वह उसमें सहभागिता करेंगे और नए बच्चों को प्रेरित करेंगे उसके बाद 20 जून को  बच्चों के परिवार के लोग हैं इसमें सहभागिता करेंगे, ये कार्यक्रम हमने बनाया है और तीन दिन पूरे उत्साह के साथ जोश के साथ मनाने जा रहे हैं।


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News