रानी के बाद अब महारानी के चुनाव लड़ने पर भी लगा विराम

Election-tussal-between-rani-and-maharani

भोपाल।

दिग्विजय सिंह की पत्नी और मशहूर पत्रकार अमृता  सिंह के लोकसभा चुनाव लड़ने की तमाम अटकलों पर फेसबुक के माध्यम से लगे विराम के बाद अब यह भी साफ हो गया है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया की पत्नी प्रियदर्शनी राजे भी चुनाव नहीं लड़ेंगी। दरअसल, प्रियदर्शनी गुना और शिवपुरी संसदीय क्षेत्र के 18 तारीख से दौरे पर हैं और इसी दौरे को लेकर इस तरह की बातें सामने आ रही थी कि संभवत वे गुना शिवपुरी सांसद क्षेत्र से ज्योतिराज सिंधिया की जगह चुनाव लड़ सकती हैं। 

इन बातों को इससे भी बल मिला था कि ज्योतिरादित्य सिंधिया को उत्तर प्रदेश की जिम्मेदारी दी गई है और इस कारण से वे शायद लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे। लेकिन अब यह साफ हो गया है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ही कांग्रेस की ओर से गुना शिवपुरी सांसद क्षेत्र के उम्मीदवार होंगे और प्रियदर्शनी राजे उनके चुनाव प्रचार की कमान संभालेंगी। 

दरअसल उत्तर प्रदेश में व्यस्तता के चलते ज्योतिरादित्य सिंधिया इस बार अपने संसदीय क्षेत्र प्रचार के लिए महज 6 दिन दे पाएंगे और इसी कारण से इस बार चुनावी प्रचार की कमान पूरी तरह से महारानी यानि प्रदर्शनी राजे के हाथों में होगी। पिछले दिनों दिल्ली अपने निवास पर गुना शिवपुरी संसदीय क्षेत्र के प्रभारियों की बैठक में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने यह बात साफ भी कर दी। अपने सीधे सरल व्यवहार के चलते प्रियदर्शनी का एक अलग ही प्रभाव है और कार्यकर्ताओं को उम्मीद है कि उनके इस व्यवहार के चलते वे सरलता के साथ एक बार फिर जीत हासिल करने में सफल होंगे।