कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, दशहरा से पहले मिलेगा बोनस, 52,600 कर्मचारी होंगे लाभान्वित

महाप्रबंधक सुधीर कुमार गुप्ता के मुताबिक कर्मचारियों को बोनस का भुगतान दुर्गापूजा के पहले किया जाएगा। बोनस का

जबलपुर, संदीप कुमार। रेल मंत्रालय (Rail Ministry) ने C एवं D कैटागिरी के 7th pay commission रेल कर्मचारियों (Employees) को इस वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए 78 दिनों के वेतन (salary) के बराबर उत्पादकता लिंक्ड बोनस (PLB) का भुगतान करने का निर्णय लिया है। पात्र अराजपत्रित रेल कर्मचारियों को पीएलबी के भुगतान के लिए निर्धारित वेतन गणना की सीमा 7000 रु प्रति माह के हिसाब से की जाएगी। पात्र कर्मचारी को 78 दिनों के लिए अधिकतम राशि 17,951 रु बोनस (bonus) के रूप में भुगतान की जाएगी।

पश्चिम मध्य रेल के जनरल मैनेजर सुधीर कुमार गुप्ता ने बताया कि इस बोनस की राशि पर पश्चिम मध्य रेल पर 87.99 करोड़ रु का वित्तीय प्रभाव होने का अनुमान है। इस निर्णय से पश्चिम मध्य रेलवे के लगभग 52600 अराजपत्रित रेलवे कर्मचारियों (Employees) को लाभ होगा। रेलवे पर बोनस सभी अराजपत्रित रेलवे कर्मचारी (RPF/RPSF कर्मियों को छोड़कर) मिलेगा।इससे सभी पात्र कर्मचारियों में हर्ष का माहौल व्याप्त है।

Read More: कार्य में लापरवाही, 4 शिक्षकों पर गिरी गाज, रुकेगी वेतन वृद्धि! कलेक्टर ने जारी किया नोटिस

पमरे महाप्रबंधक ने बताया गया कि पश्चिम मध्य रेल द्वारा वर्ष 2020-21 में बेहतर प्रदर्शन किया गया है। जिसके अंतर्गत 6 मेमू ट्रेनों का परिचालन, तीनो मंडलों के रेल अस्पतालों मे ऑक्सीजन प्लांट, भारतीय रेल पर पहला एन एम् जी एच रेक का निर्माण, भारतीय रेल पर मॉल गाड़ियों की गति में प्रथम, हाई स्पीड ट्रायल, 94 किलोमीटर दोहरीकरण/तिहरीकरण लाइन का निर्माण, ऑनलाइन पेमेंट सिस्टम आदि महत्वपूर्ण कार्य किये गए है।
.

महाप्रबंधक सुधीर कुमार गुप्ता के मुताबिक कर्मचारियों को बोनस का भुगतान दुर्गापूजा के पहले किया जाएगा। बोनस का भुगतान होने से रेल कर्मचारी अपने कार्य के प्रदर्शन में और सुधार करेंगे। बीते साल के प्रदर्शन के आधार पर किया जा रहा है। पिछले वर्ष रेल कर्मचारियों ने कोविड-19 लॉकडाउन के दौरान कार्य, माल भाडा, अधोसंरचना, यात्री सुविधाएँ, स्टाफ वेलफेयर, श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का संचालन आदि के अति महत्वपूर्ण कार्य किये है।