EVM पर घमासान: अब रायसेन में खराब हुई स्ट्रांग रूम की LED, पचौरी ने किया निरीक्षण

EVM-tempering-now-Raisen-strong-room-LED-malfunctioned-

भोपाल/रायसेन। वोटिंग के बाद अब प्रदेश में ईवीएम पर सियासत तेज हो गई है। स्ट्रांग रूम तक ईवीएम पहुंचने में लापरवाही और उनके रखरखाव को लेकर कांग्रेस लगातार सवाल खड़े कर रही है। राजधानी भोपाल में स्ट्रांग रूम के बाहर लगी एसईडी बंद होने के बाद अब रायसेन जिले में भी ऐसी ही घटना सामने आई है। उन्होंने जिला निर्वाचन अधिकारी (कलेक्टर) और निर्वाचन आयोग से किया अनुरोध कर इस मामले को गंभीरता से लेने के लिए कहा है। 

भोपाल के बाद अब रायसेन में भी हुई मतगणना कक्ष के बाहर लगी एलइडी खराब होने की खबर मिल रही है। इसे लेकर कांग्रेस ने एक बार फिर आपत्ति जताई है। पूर्व केंद्रीय मंत्री और भोजपुर विधानसभा प्रत्याशी सुरेश पचौरी रायसेन रवाना हुए हैं। इससे पहले उन्होंने भोपाल की पुरानी जेल में रखी ईवीएम के स्ट्रांग रुम का भी निरीक्षण किया था। रायसेन पहुंचे पचौरी ने स्थानीय कार्यकर्ताओंं को सावधानी बरतने की सलाह दी है। कांग्रेस ने शनिवार को ईवीएम की सुरक्षा में सामने आ रही चूक पर सरकार और सरकारी मशीनरी पर हमला बोला था। 

गौरतलब है कि सागर में मतदान के 48 घंटे बाद गुरुवार की शाम स्ट्रांगरूम में ईवीएम पहुंचाए जाने के मामले को लेकर कांग्रेस आक्रोशित है। कांग्रेस ने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से शिकायत की है। शिकायत में सागर में मतदान के 48 घंटे बाद ईवीएम पहुंचाए जाने पर सवाल उठाया गया है, साथ ही आरोप लगाया है कि खुरई में जिलाधिकारी आलोक सिंह और भाजपा नेताओं के बीच नजदीकी है, जिसके चलते गड़बड़ी की आशंका है।

इसी तरह भोपाल के पुरानी जेल परिसर में बनाए गए स्ट्रांगरूम के बाहर लगी, एलईडी के बंद होने पर सवाल उठाया गया है। इसके अलावा सतना के स्ट्रांगरूम के पिछले दरवाजे से (संदिग्ध) सामग्री लाए जाने का मामला भी तूल पकड़े हुए है। पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव का आरोप है कि मतदान के बाद सरकार पूरी तरह बेईमानी पर उतर आई है। सागर, अनूपपुर, सतना से ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायतें आ रही हैं। मतदान के दिन दो से तीन घंटे तक मशीनें बंद रहीं, जिससे मतदान प्रभावित हुआ था।