निकाय चुनाव से पहले कमलनाथ की बड़ी मांग, सीएम शिवराज को लिखा पत्र

कमलनाथ ने पत्र लिखकर नगरीय क्षेत्रों में स्थित भूमियों के लीज़ व नवीनीकरण के संबंध में दो तरह की व्यवस्थाओं से पट्टे धारियों को हो रही परेशानियों को दूर करने की मांग की है

कमलनाथ

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट| कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) ने सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) को पत्र लिखा है| निकाय चुनाव से पहले कमलनाथ ने पत्र के माध्यम से मध्य प्रदेश के नगरीय क्षेत्रों में स्थित भूमियों के लीज़ व नवीनीकरण के संबंध में दो तरह की व्यवस्थाओं को लेकर लोगों के बीच नाराजगी और पट्टे धारियों को हो रही परेशानियों को दूर करने की मांग की है|

पूर्व सीएम ने पत्र में कहा कि नगरीय क्षेत्रों में स्थित भूमियों के लीज और उनके नवीनीकरण के संबंध में दो तरह की व्यवस्थाएं | शहरी क्षेत्र में स्थित भूमियों के संबंध में मध्यप्रदेश शासन राजस्व विभाग द्वारा मध्य प्रदेश नजूल भूमि निर्वर्तन निर्देश एवं मध्यप्रदेश शासन नगरीय विकास विभाग द्वारा मध्य प्रदेश नगर पालिका (अचल संपत्ति का अंतरण) नियम 2016 के तहत कार्रवाई की जाती है|

उन्होंने बताया कि इन दोनों व्यवस्थाओं में लीज पर प्राप्त भूमियों को लीज शर्तो के उल्लंघन एवं लीज नवीनीकरण के संबंध में अलग अलग प्रावधान होने से शासन को देय राशि में अत्यंत असमानता है जिसके चलते पट्टे धारियों के बीच इसको लेकर नाराजगी है| मध्य प्रदेश नगर पालिका (अचल संपत्ति का अंतरण) नियम 2016 के तहत शर्तों का शमन, भू-भाटक निर्धारण एवं नवीनीकरण करने के लिए देय राशि की गणना में कलेक्टर गाइडलाइन को आधार माना गया है| इस कारण से पट्टे धारियों को अत्यधिक राशि का भुगतान करना पड़ रहा है| जबकि मध्य प्रदेश नजूल भूमि निर्देश के तहत भो-भाटक गणना, नवीनीकरण एवं शर्तों के उल्लंघन के लिए अलग प्रावधान है, जो कि सामान्यतः जन सामान्य में स्वीकार है | दोहरी व्यवस्था होने के कारण लोगों में इसको लेकर नाराजगी है एवं नगरीय विकास विभाग के तहत लीज संबंधी प्रकरणों का निराकरण भी नहीं हो पा रहा है| उन्होंने शासन स्तर पर विचार कर उचित निर्णय कर जनता को राहत देने की मांग की है|