कांग्रेस के लोग ही न गिरा दें कमलनाथ सरकार : शिवराज

ex-cm-shivraj-attack-on-kamalnath-government-and-congress

भोपाल| लोकसभा चुनाव के नतीजों से पहले प्रदेश में मचे सियासी घमासान के बीच पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस के खरीद फरोख्त के आरोपों पर पलटवार किया है| उन्होंने हमला बोलते हुए कहा हम खरीद फरोख्त पर विश्वास नही करते, हम सिद्धान्तों पर राजनीति करते है| कांग्रेस अपने अतंर विरोध की चिंता करे, उनके लोग ही उनकी सरकार न गिरा दे| हमने कभी फ्लोर टेस्ट की मांग नही की, भाजपा गिराने की राजनीति नही करती| 

पत्रकारों से चर्चा करते हुए शिवराज ने कहा अभी हमने एक वीडियो देखा ज���समें भोपाल से कांग्रेस के एक विधायक मुख्यमंत्री कमलनाथ को हड़का रहे हैं, कह रहे हैं डीजी जेल को हटाओ वरना हम देख लेंगे, कांग्रेस का एक विधायक आतंकवादियों की पैरवी कर रहा है, बाहर से जेल में सामान भेजना चाहता है, अब जेल की सुरक्षा रखनी पड़ेगी| उन्होंने सीएम कमलनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कांग्रेस हम पर आरोप लगा रही है जबकि उनका विधायक सीएम तक को हड़का रहा है| क़र्ज़ माफ़ी पर मुख्यमंत्री कमलनाथ के पत्र पर शिवराज सिंह ने कहा दस दिन में क़र्ज़ माफ करने वाले कहाँ गए, किसानों के साथ धोखा हुआ, पहले बोला सब किसानों का क़र्ज़ माफ होगा अब बोलने लगे अल्पकालीन फसली ऋण माफ होगा, पता नही कौन अधिकारी सीएम कमलनाथ को सलाह दे रहा है| कल के परिणाम बताएंगे कि कौन सच्चा है| 

सरकार का खिलौना न बनें अफसर 

पूर्व सीएम ने कहा छिंदवाड़ा में बीजेपी नेताओं, कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी हुई है, मैं चेतावनी देता हूँ अफसरों को वो एक तरफ़ा काम न करें, अफसर सरकार का खिलौना न बनें, नहीं तो ठीक नही होगा| छिंदवाड़ा में मेरे हेलीकॉप्टर को भी नहीं उतरने दिया था|  मेने कहा कलेक्टर छिंदवाड़ा ने गलत किया है, लेकिन किसी ने नही माना, चुनाव आयोग ने माना| उन्होंने कहा सभी जिला निर्वाचन अधिकारियों से अपील करता हूं किसी के दवाब में न आएं|  

…क्योंकि राजकुमार को बचाना 

चुनाव परिणाम को लेकर शिवराज ने कहा बीजेपी आत्मविश्वास से भरी हुई है, वहीं विपक्ष समझ गया है कि वो जीतने वाले नही है, हार का ठीकरा राहुल बाबा पर फोड़ नही सकते, इसलिए ईवीएम पर ठीकरा फोड़ने की तैयारी कर रहे हैं| उन्होंने कहा एमपी छत्तीसगढ़ के नतीजे आये हम तो नही रोये, न हमने ईवीएम पर ठीकरा फोड़ा, अब 21 दल इकट्ठे हो रहे हैं, लोकतंत्र का मखोल उड़ा रहे हैं , चुनाव आयोग का अपमान कर रहे हैं, वोटरों का अपमान कर रहे हैं, चुनाव आयोग को बार बार कटघरे में खड़ा किया जाता है, सेम पित्रोदा, मणिशंकर अय्यर सब पर गाज गिरेगी क्योंकि राजकुमार को बचाना है|