ABP का सर्वे: भाजपा के हाथ से फिसला ‘मध्य प्रदेश’, कांग्रेस को मिल रहा बहुमत

exit-poll-abp-news-survey-showing-congress-winning

भोपाल। देश के पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव संपन्न हो गए। शुक्रवार को राजस्थान और तेलंगाना में मतदान हुआ। इसके बाद से ही नतीजों को लेकर एग्जिट पोल का सिलसिला भी शुरू हो गया है। मध्य प्रदेश में ऊंट किस करवट बैठेगा इसे लेकर एबीपी नीलसन ने सर्वे जारी किया है। बीजेपी और कांग्रेस में कांटे की टक्कर देखने को मिल रही है। प्रदेश की 230 विधानसभा सीटों के लिए कुल 2,899 उम्मीदवार मैदान में हैं। प्रदेश में सर्वे के मुताबिक कांग्रेस को प्रदेश में 126 सीटें मिलने का अनुमान है। वहीं, भाजपा को 94 सीटें और अन्य को 10 सीटें मिलती दिख रही हैं। 

चंबल में कांग्रेस आगे 43 फीसदी वोट प्रतिशत

प्रदेश के चंबल क्षेत्र में बड़ा उलटफेर देखना को मिल रहा है। यहां 34 सीटों हैं। इनमें से एबीपी न्यूज चैनल के मुाबिक एग्जिट पोल में भाजपा को 10 कांग्रेस को 21 और अन्य को तीन सीट मिलने की संभावना है। यहां कांग्रेस को 43 फीसदी, भाजपा को 36 फीसदी और अन्य को 22 फीसदी वोट मिलने के आसार हैं। कांग्रेस सासद ज्योतिरादित्य सिंधिया का इस क्षेत्र में प्रभाव है। उनके चेहरे के कारण इस बार माना जा रहा है बढ़ चढ़ कर वोट किया है। 

विंध्य क्षेत्र: 56 सीटों में से कांग्रेस यहां भी आगे चल रही है। कांग्रेस को यहां 33 भाजपा को 20 अन्य के खाते में 3 सीटें मिलने का अनुमान है। विंध्य में भी आंकड़े कांग्रेस के पक्ष में जाते दिख रहे हैं। यहां कहा जा रहा है कि सवर्णों ने कांग्रेस का साथ दिया।

महाकौशल: 49 सीटों में कांग्रेस और बीजेपी में कांटे की टक्कर है, लेकिन यहां भी कांग्रेस, बीजेपी को पछाड़ने में कामयाब होती दिख रही है। कांग्रेस 23 से 29 यानी 26 सीटें जीत सकती है, जबकि बीजेपी 19 से 23 यानी 21 सीटों पर जीत दर्ज कर सकती है। अन्य के खाते में 1 से 3 यानी दो सीटें जाने का अनुमान है। महाकौशल में कटनी, जबलपुर, डिंडौरी, मंडला, बालाघाट, सिवनी, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा, बैतूल, हरदा और होशंगाबाद जिले आते हैं। 

मालवा नॉर्थ 63 सीटें: यही वह इलाका है जो बीजेपी की लाज बचाता दिख रहा है. इस इलाके में सत्ताधारी बीजेपी, कांग्रेस पर भारी पड़ती दिख रही है। यहां बीजेपी के 30 से 36 यानि 33 सीटों पर जीतने का अनुमान है, जबकि कांग्रेस यहां बीजेपी से पिछड़ रही है। यहां कांग्रेस 26 से 32 यानी 29 सीटें जीत सकती है। अन्य 0 से 2 सीटें यानी एक सीट जीत सकती है।

मालवा ट्राइबल इलाके की 28 सीटों में भी कांग्रेस पार्टी बाज़ी मारती दिख रही है. यहां कांग्रेस 15 से 19 यानी 17 सीटें जीत सकती है। वहीं बीजेपी 8 से 12 यानी 10 सीटें ही जीत सकती है। अन्य 0 से 2 सीटें यानि एक सीट जीत सकते हैं।