Cow Cabinet : गोपाष्टमी पर पहली गो-कैबिनेट सम्पन्न, बैठक में लिए गए यह अहम फैसले

बैठक में बताया गया कि प्रदेश को आत्मनिर्भर (Aatmanirbhar) बनाने के लिए गौधन का इस्तेमाल किया जाएगा। स्वावलंबन के लिए गौमाता की अवधारणा को लागू करेंगे। गौशालाओं को आत्मनिर्भर बनाया जाएगा।

cabinet meeting

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल (Bhopal) में आज रविवार (Sunday) को गोपाष्टमी (Gopashtami) के अवसर पर पहली वर्चुअल गो-कैबिनेट (Cow Cabinet) बैठक सम्पन हुई। बैठक में मंत्रियों-अधिकारियों (Ministers-Officers) के अलावा विशेषज्ञ भी शामिल हुए। बैठक में फैसला लिया गया कि आगर-मालवा (Agar Malwa) में गायों को लेकर रिसर्च सेंटर बनेगा इसके अलावा गौ संरक्षण के लिए ‘काऊ सेस’ लगाने पर भी सरकार विचार कर रही है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने कहा कि गौ-वंश के संरक्षण और संवर्धन का काम हम श्रद्धा के साथ-साथ पर्यावरण (Environment) बचाने, फसलों का उत्पादन बढ़ाने, तथा कुपोषण (Malnutrition) दूर करने के लिए भी कर रहे हैं। निवास पर #गोपाष्टमी पर्व के अवसर पर वी.सी. के माध्यम से मध्यप्रदेश की प्रथम गौ-कैबिनेट की बैठक ली।मध्यप्रदेश की गौ-कैबिनेट गौसंवर्धन और संरक्षण (Cow Culture And Protection) पर विचार करने के लिए बनी है।सरकार गाय पालन के जरिये पर्यावरण संरक्षण और रोजगार को बढ़ावा देने के लिए भी काम करेगी।

बैठक में बताया गया कि प्रदेश को आत्मनिर्भर (Aatmanirbhar) बनाने के लिए गौधन का इस्तेमाल किया जाएगा। स्वावलंबन के लिए गौमाता की अवधारणा को लागू करेंगे। गौशालाओं को आत्मनिर्भर बनाया जाएगा। गायों के गौबर और गौमूत्र का बेहतर उपयोग कैसेे करें, अधिकारी इस पर सुझाव लें और काम शुरू करें।प्रदेश में बड़ी संख्या में गौशालाएं बनाई जाएंगी और इसमें समाज का सहयोग लिया जाएगा। सिर्फ पशुपालन विभाग (Animal Husbandry Department) नहीं, बल्कि अन्य विभाग भी इस भूमिका को निभाएं।

गाय पर टैक्स लगाने की तैयारी में शिवराज सरकार

इसके अलावा गौ संरक्षण के लिए ‘काऊ सेस’ लगाने पर भी सरकार विचार कर रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसके संकेत दिए हैं कि इसी तरह का टैक्स लगाने का मसौदा कमलनाथ सरकार में भी अफसरों ने तैयार किया था। शिवराज सरकार भी ऐसे ही विकल्पों के जरिए गायों के भरण-पोषण की तैयारी कर रही है।शिवराज सरकार (Shivraj Government) का मानना है कि इस टैक्स से जो राशि प्राप्त होगी उससे पावन कार्य में सभी की भागीदारी भी होगी।साथ ही इनकम टैक्स (Income Tax) की धारा 80-जी के अंतर्गत गाय के लिए दान करने पर आयकर में छूट (Income tax exemption) का प्रावधान है। यदि सरकार गाय टैक्‍स लगाती है तो यह पहली ऐसी BJP सरकार होगी जो एमपी में गायों के कल्‍याण के लिए टैक्‍स लगाएगी।

 इसके बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आगर के सालरिया स्थित गो-अभयारण्य (Cow Sanctuary At Salaria) पहुंचे और गायों की पूजा अर्चना की। यहां वे एक सभा को संबोधित करेंगे और  विशेषज्ञों के साथ चर्चा कर 3 अहम घोषणाएं करेंगे। उन्होंने कहा कि आज सालरिया में अनेक गौविशेषज्ञ पधारे हैं जिनके साथ हम विस्तृत चर्चा करेंगे और जो निष्कर्ष निकलेगा, उसे मैं कार्यक्रम में घोषित करूंगा।