कलेक्टर की फर्जी ID और ASP के नाम से फोन कर वसूली, FIR दर्ज

fraud-on-Collector's-fake-ID-and-phone-call-by-name-of-ASP-in-satna-

भोपाल| सोशल मीडिया प्लेटफार्म के जरिये ठगी के शिकार आम आदमी ही नहीं बल्कि अधिकारी भी हो रहे हैं| सतना में कलेक्टर और एएसपी के नाम पर फर्जी फेसबुक आईडी और एएसपी के नाम पर फ़ोन कर रुपए जमा कराने का सनसनीखेज मामला सामने आया है|  सतना कलेक्टर सतेंद्र सिंह की फर्जी आईडी बनाकर बैंक खाते में रुपए जमा कराने की मांग की गई| इसकी जानकारी जैसे ही सतना कलेक्टर को लगी उन्होंने इस आईडी के स्क्रीनशॉट, आईडी की पहचान सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्म्स में शेयर कर दी और पुलिस में एफआईआर करवाई।  कलेक्टर ने तुरंत फेसबुक पोस्ट पर लोगों को सावधान किया वहीं एडिशनल एसपी गौतम सोलंकी से जांच करने और साइबर सेल को जांच कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं|

प्रदेश में इन दिनों कलेक्टर के नाम से फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर और एडिशनल एसपी के नाम से फर्जी फोन कर बैंक खातों में आम नागरिकों से लाखों रुपए जमा कराने वाले गिरोह सक्रिय है| मामला सतना से सामने आया है| जहां एडिशनल एसपी के नाम से फोन पर दो पेट्रोल पंप मालिकों ने बैंक खातों में ₹89000 जमा करवा दिए वहीं सतना कलेक्टर सत्येंद्र सिंह की भी फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर ठगों ने रुपए जमा करने की मांग की| कलेक्टर सत्येंद्र सिंह को उनके ग्वालियर में रहने वाले मित्र वकील जितेंद्र सिंह ने कल रात 12:30 बजे उनकी फेसबुक आईडी से रुपए मांगे जाने की जानकारी दी अन्य लोगों ने भी फोन पर बताया कि उनके नाम से फेसबुक पर 20000 , 15000 और ₹7000 रुपए मांगे जा रहे हैं| कलेक्टर ने तुरंत फेसबुक पोस्ट पर लोगों को सावधान किया वहीं एडिशनल एसपी गौतम सोलंकी से जांच करने और साइबर सेल को जांच कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं, उन्होंने एफआईआर भी दर्ज कराई है| 

इधर एडिशनल एसपी गौतम सोलंकी के नाम से जसपुर थाना और अंबारा थाने से पेट्रोल पंप पर फोन पहुंचे और दो पंप मालिकों ने बताए गए बैंक खातों में 49000 और ₹40000 जमा करा दिए | राशि जिस बैंक खातों में जमा हुई है वह लोकेश नेवला आनंद विहार रेलवे कॉलोनी जगतपुरा जयपुर का निकला है यहां पूरी पुलिस टीम बनाकर जांच के लिए भेजी जा रही है|