36 घंटे तक ट्रेन में युवती से छेड़छाड़, स्टेशन पर घरवालों ने युवकों को जूते-चप्पलों से पीटा

कटनी, अभिषेक दुबे। ट्रेन से उतारकर महिलाओं ने कुछ मनचले लड़कों की जमकर पिटाई की। एक युवती बैंगलुरू से कटनी आ रही थी, इस दौरान ट्रेन के कोच में कुछ युवकों ने उसके साथ छेड़छाड़ शुरू कर दी। युवती ने आरपीएफ को शिकायत की तो वो भी बस आकर खानापूर्ति करके चले गए। इस दौरान सहयात्रियों ने भी उसकी कोई मदद नहीं की। आखिर ट्रेन कटनी पहुंची और फिर यहा मामले ने यू टर्न लिया। प्लेटफॉर्म पर पहले से मौजूद युवती के रिश्तेदारों ने युवकों को ट्रेन से बाहर निकाला और फिर जूते चप्पलों से उनकी जमकर धुनाई कर दी।

ये भी देखिये – Bollywood Actor आमिर खान हुये कोरोना पॉजिटिव, कुछ दिन पहले ही छोड़ा था सोशल मीडिया

घटना दो दिन पहले की बताई जा रही है एवं मामला कटनी रेलवे स्टेशन का है। जहाँ यात्रा के दौरान एक महिला यात्री संघमित्रा एक्सप्रेस में बैठ कर कटनी आ रही थी। जैसे ही ट्रेन बैंगलोर से चली तो तीन चार युवकों ने युवती को कमेंट पास किये। उनकी हरकत यहीं नहीं रूकी, वो युवती को छूने भी लगे। इसपर युवती ने इस हरकत के बारे में अपनी परिचित महिला को फ़ोन से बताया जिस पर महिला ने हेल्पलाइन नम्बर पर बात करने को कहा। हेल्पलाइन पर बात करने के बाद अगले स्टेशन पर Rpf के जवान कोच में पहुंचे और उन लकड़ों को समझा बुझाकर सीट बदलवा दी। लेकिन गाड़ी चलने के बाद मनचले युवक फिर वहां पहुंच गए और वही हरकत करने लगे। डरी सहमी युवती ट्रेन से 20 तारीख को कटनी पहुँची तो वहां पर पहले से मौजूद उसके परिवार वाले ओर परिचित लोगो ने ट्रेन से उतारकर उन मनचलों की चप्पलों से जमकर पिटाई कर दी। महिलाओं ने चप्पल जूते और लातों से युवकों की जमकर धुनाई की। महिलाओं ने बताया कि युवक संघमित्रा ट्रेन में 36 घंटे तक युवती से छेड़छाड़ कर रहा था। युवती का कहना है कि लड़कों ने शराब भी पी रखी थी। हालांकि मामले में किसी पक्ष ने पुलिस में शिकायत दर्ज नही कराई है। युवकों की पिटाई करने महिला ने कहा कि ट्रेन में अकेली महिला सुरक्षित नहीं है, ना ही पुलिस और अन्य यात्रियों ने लड़की की किसी भी प्रकार से सहायता की।