भोपाल। मध्य प्रदेश में नगरीय निकाय चुनाव से पहले सरकार ने बड़ी करवाई की है| होशंगाबाद नगर पालिका अध्यक्ष समेत चार नगरीय निकाय अध्यक्ष को पद से हटा दिया है| नगरीय विकास एवं आवास विभाग ने इस सम्बन्ध में आदेश जारी किये हैं| इन अध्यक्षों को कर्त्तव्य पालन में अक्षमता और विभिन्न अनियमितताओं में प्रथम दृष्टया उत्तरदायी पाए जाने पर पद से पृथक करने की कार्रवाई की गई है| 

होशंगाबाद के नगर पालिका अध्यक्ष अखिलेश खंडेलवाल को पद से हटा दिया गया है| उन्हें भ्रष्टाचार के मामले में दोषी पाया गया था। नगरीय विकास एवं आवास विभाग के सचिव ने यह आदेश जारी किए।  खंडेलवाल के खिलाफ भ्रष्टाचार की कई शिकायतें थी, भारतीय जनता पार्टी के नेता नगर पालिका अध्यक्ष अखिलेश खंडेलवाल के खिलाफ उनकी ही पार्टी के नेता ने भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे| 

इन निकाय अध्यक्षों को पद से हटाया 

जिन चार नगरीय निकाय के अध्यक्षों पर यह कार्रवाई की गई है इनमें नगर परिषद भानपुरा जिला मंदसौर की अध्यक्ष श्रीमती रेखा मांदलिया, नगर परिषद आरोन जिला गुना के अध्यक्ष कृष्ण सिंह रघुवंशी, नगर परिषद गुढ़ जिला रीवा के अध्यक्ष विष्णु प्रकाश मिश्रा और नगर पालिका होशंगाबाद के अध्यक्ष अखिलेश खंडेलवाल शामिल हैं। इसके अलावा पदच्युत अध्यक्षों को अगली पदाविधि में नगरीय निकाय के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष अथवा किसी समिति के अध्यक्ष का पद धारण करने से भी निरहरित  कर दिया गया है ।