Unlock : सुबह आवश्यक सेवाएं, 11 से 5 बजे तक सभी बाजार खुलने पर बनी सहमति, शासन की स्वीकृति पर होगा लागू

ग्वालियर में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में अनलॉक को लेकर सदस्यों ने महत्वपूर्ण सुझाव दिये। जिसका प्रस्ताव बनाकर शासन को भेजा जाएगा। शासन की स्वीकृति पर नियम लागू होंगे।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। एक जून से होने वाले अनलॉक (Unlock) की रूपरेखा तय करने के लिए रविवार की शाम कलेक्ट्रेट कार्यालय में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप (Crisis Management Group) की बैठक आयोजित की गई। बैठक में मौजूद सदस्यों ने महत्वपूर्ण सुझाव दिये। चर्चा के बाद आम सहमति बनी कि अति आवश्यक सेवाओं को सुबह 11 बजे तक और 11 बजे से 5 बजे तक अन्य सभी व्यापार खोले जाएं। कलेक्टर बैठक में आये सुझावों का प्रस्ताव बनाकर शासन को भेजेंगे और फिर शासन की स्वीकृति के बाद कलेक्टर आदेश निकालेंगे।

यह भी पढ़ें:-1 जून से अनलॉक होगा कान्हा नेशनल पार्क

जिला क्राइसेस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर एवं क्षेत्रीय सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने कहा कि हम सबको अपने जिले को कोरोना मुक्त घोषित कराने के लिए सामूहिक प्रयास करने होंगे। इसके साथ ही आर्थिक गतिविधियां भी धीरे-धीरे शुरू करना होंगीं। बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि आवश्यक वस्तुएं जिनमें दूध, सब्जी, किराना, ब्रेड आदि शामिल हैं उनकी दुकानें प्रात: 11 बजे तक खोली जाएं। इसके साथ ही शेष सभी दुकानों को प्रात: 11 बजे से शाम 5 बजे तक खोलने की अनुमति प्रदान की जाए। बैठक में यह भी तय किया गया कि सभी रेस्टोरेंट से होम डिलेवरी की अनुमति प्रदान की जाए। इसके साथ ही शासन द्वारा निर्धारित गाइडलाइन में जो तय किया गया है उसका पालन सुनिश्चित किया जाए। बैठक में सदस्यों द्वारा दिए गए सुझावों का एक विस्तृत नोट बनाकर शासन की स्वीकृति हेतु भेजे जाने का निर्णय भी लिया गया है।

यह भी पढ़ें:-Unlock से पहले सीएम शिवराज सिंह चौहान ने की बड़ी घोषणा

कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बैठक में कहा कि क्राइसेस मैनेजमेंट समिति के सदस्यों द्वारा जो महत्वपूर्ण सुझाव दिए गए हैं। उसका विस्तृत प्लान बनाकर शासन की स्वीकृति हेतु भेजा जायेगा। शासन से स्वीकृति उपरांत उसे अमल में लाया जाएगा। उन्होंने बताया कि शासन द्वारा निर्धारित गाइडलाइन के अनुसार शनिवार की रात 10 बजे से सोमवार की सुबह 10 बजे तक जनता कर्फ्यू रहेगा। इसके साथ ही सप्ताह में दो दिन बाजार बंद रखने के प्रस्ताव पर भी शासन को प्रस्ताव भेजकर स्वीकृति प्राप्त की जायेगी।

बैठक में सांसद विवेक नारायण शेजवलकर, ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, विधायक प्रवीण पाठक, विधायक डॉ. सतीश सिकरवार, विधायक डबरा सुरेश राजे, भाजपा जिला अध्यक्ष कमल माखीजानी, जिला कांग्रेस अध्यक्ष देवेन्द्र शर्मा, पूर्व विधायक रमेश अग्रवाल, रामबरन सिंह गुर्जर, मदन कुशवाह, भाजपा के ग्रामीण जिला अध्यक्ष कौशल शर्मा, जिला पंचायत की प्रशासीय समिति की अध्यक्ष श्रीमती मनीषा यादव, भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष देवेश शर्मा, चेम्बर ऑफ कॉमर्स के मानसेवी सचिव प्रवीण अग्रवाल, कैट के अध्यक्ष भूपेन्द्र जैन, बहुजन समाज पार्टी के जिला अध्यक्ष, भाजपा के पूर्व ग्रामीण अध्यक्ष वीरेन्द्र जैन ने भी अपने महत्वपूर्ण सुझाव दिए।