Gwalior News : राखी से पहले भाई बहन का पवित्र रिश्ता हुआ कलंकित, मृतक भाई की जमीन को बहनों ने हड़पा, मामला दर्ज

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। ग्वालियर (gwalior) में रक्षा बंधन (raksha bandhan) से पहले भाई बहन का रिश्ता कलंकित होने का मामला सामने आया है। शादीशुदा तीन बहनों ने षडयंत्र कर अपने मरे हुए भाई की जमीन पर अवैध रूप से कब्जा कर लिया। बहनों ने खुद को मृतक भाई की बेटियां बताया और अधिकारियों से सांठगांठ कर जमीन अपने नाम करवा ली अब इस जमीन पर प्लॉटिंग (ploting) का काम चल रहा है। खास बात है कि इस मामले में फरियादी माँ बनी है। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

CSP महाराजपुरा रवि भदौरिया ने एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ को बताया कि महाराजपुरा थाना क्षेत्र के ग्राम विक्रमपुर निवासी 65 वर्षीय महिला हरिकुंअर ने पुलिस थाने में शिकायत की थी कि उनकी शादीशुदा बेटियों रामकली, पुष्पा और मुन्नी ने उसके बेटे यानि अपने भाई के नाम की जमीन के फर्जी दस्तावेज बनवाकर उसे अपने नाम करा लिया है। इतना ही नहीं जमीन पर प्लॉटिंग भी शुरू कर बेचना भी शुरू कर दिया है।

Read More: Government Jobs 2021: इन पदों पर निकली भर्ती, आकर्षक वेतन, देखें डिटेल्स

जब पुलिस ने शिकायत के बाद मामले की जांच पड़ताल शुरू की तो जानकारी मिली कि शिकायतकर्ता हरिकुंअर देवी के चार बेटे तथा तीन बेटियां हैं। बेटे बेटियों की वह शादी कर चुकी है। बड़ा बेटा अकेला था उसके कोई संतान नहीं थी उसकी दोनों पत्नियों की मौत हो चुकी थी। आशाराम अपने छोटे भाई सीताराम के साथ रहता था। आशाराम ने मृत्यु से पहले अपने हिस्से की एक बीघा जमीन जिसकी कीमत 70 से 80 लाख रुपए है, अपने छोटे भाई सीताराम के नाम कर दी थी।

मृतक भाई की इसी महंगी जमीन पर तीनों बहनों की नजर जम गई। तीनों बहनों ने खुद को आशाराम की बेटियां बताकर फर्जी दस्तावेज तैयार कर अधिकारियों से सांठगांठ कर जमीन अपने नाम करा ली। पुलिस को दिये शिकायती आवेदन में हरिकुंअर ने कहा कि उसे जब उसकी बेटियों की धोखाधड़ी की जानकारी लगी तो उसने बेटियों से बात की लेकिन बेटियों ने उसके साथ अभद्र व्यवहार किया। जिसके बाद उसने पुलिस की शरण ली। फिलहाल पुलिस ने तीनों बहनों के खिलाफ भाई के साथ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।