गृहमंत्री नरोत्तम का कांग्रेस पर तंज- झूठे लोगों की तो भगवान भी नहीं सुनते

दतिया।

मध्यप्रदेश में शिवराज सरकार के मंत्रिमंडल के बाद पार्टियों की नजर उपचुनाव की तैयारियों को लेकर है। जहां चुनाव अभियान की शुरुआत से पूर्व ईश्वर दर्शन के लिए महाकाल मंदिर पहुंचे पूर्व मंत्री कमलनाथ पर तंज कसते हुए प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि झूठे लोगों की तो भगवान भी नहीं सुनते है। कॉन्ग्रेस छल-कपट की राजनीति करती है। ऐसे में उनके द्वारा मांगी गई दुआ भी व्यर्थ ही जाएगी।

दरअसल मीडिया से बात करते मिश्रा ने कहा कि जब पितांबरा पीठ से कमलनाथ अध्यक्ष बन कर आए थे तभी पितांबरा पीठ और महाकाल भी गए थे। जहां उन्हें भगवान का आशीर्वाद तो मिला लेकिन वह अपने घर को संभाल नहीं सके। और ईश्वर भी उनकी कोई मदद नहीं कर सके क्योंकि उन्हें पता है कि कांग्रेस छल कपट की राजनीति से ज्यादा कुछ नहीं करती। कमलनाथ सरकार ने प्रदेश के युवाओं,माता, बहनों के साथ धोखा किया है। इसलिए अब यह कहीं भी चले जाए कोई मतलब नहीं है। इसके साथ ही रामायण की चौपाई पढ़ते हुए नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि अभियान कांग्रेस कहीं से भी शुरू करें लेकिन छल और कपट की राजनीति करने वालों को कोई फायदा नहीं मिलना है। वही अल्पसंख्यक को लेकर चल रहे मामले के बीच गृह मंत्री ने कहा कि न्यायालय के जो फैसला होगा वह सामने आ जाएगा।वहीं दूसरी तरफ उमा भारती के बयान का समर्थन करते हुए नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि उमा भारती ने जो भी कहा है बिल्कुल सही कहा है। हम उनके मत से सहमत हैं। जैसा कि आपको ज्ञात है उमा भारती ने कहा था कि बीजेपी का हर नेता जनता का सेवक है। इसलिए कोई भी मंत्री मलाईदार पदों के फेर में ना रहे।

बता दें कि 24 सीटों पर उपचुनाव को लेकर दोनों पार्टियों की तैयारियां शुरू हो चुकी है। जिसको लेकर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ आज महाकाल के दर्शन के लिए उज्जैन पहुंचे थे। जहां उन्होंने साफ कहा था कि प्रदेश की जनता जानती है कि कौन शेर है, कौन टाइगर और कौन बिल्ली। वह चुनाव में सब कुछ बता देगी।जिसके बाद गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने उन्हें आड़े हाथ लिया है।