पॉलिटिकल हलचल के बीच बोले नरोत्तम – ‘अभी बहुत कुछ सामने आना बाकी है’

भोपाल।
प्रदेश की सियासी भूचाल के बीच कांग्रेस-बीजेपी नेताओं की बयानबाजी जोरों पर है।आए दिन नेता एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे है।अब पूर्व मंत्री और बीजेपी के दिग नरोत्तम मिश्रा का अब बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने कांग्रेस से सवाल करते हुए कहा कि उनके बाहरी विधायकों को आखिर बन्दी क्यों नहीं बनाया गया। इस पर कांग्रेस कुछ क्यों नहीं कह रही। कांग्रेस के गद्दार कहां छिपे हैं इसका खुलासा होने दीजिए। अभी बहुत कुछ सामने आना बाकी है।

मिश्रा ने मीडिया से चर्चा के दौरान कहा कि उनके घर पर अबतक कोई पुलिस नहीं पहुंची है। अगर उन्हें ऐसी कोई भी नोटिस या बुलावा भेजा जाता है तो वो खुद बैंड बाजा के साथ वहां जाएंगे।शेरा के साथ एक ही विमान में वापस इंदौर आने के सवाल पर उन्होंने कहा कि हमारे बीच सिर्फ सलाम – नमस्कार तक ही बात हुई। साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि उनकी अमित शाह से एक वैवाहिक कार्यक्रम में मुलाकात हुई। इसके अलावा किसी और विषय पर कोई चर्चा नहीं हुई।

बीजेपी विधायक संजय पाठक के ऊपर कार्यवाही के सवाल पर मिश्रा ने जवाब दिया कि कांग्रेस को एक बार अपने गिरेबान में झांकना चाहिए। दूसरों में दोष ढूंढने के बजाय उन्हें खुद पर ध्यान देना चाहिए। हमारी लड़ाई कांग्रेस मानसिकता के खिलाफ है और हमें सिर्फ उसके मानसिकता को कुचलना है। कांग्रेसी नेता भाजपा पर आरोप तो लगा रहे हैं लेकिन उनके पास इस बात का कोई सटीक प्रमाण नहीं है।

कांग्रेस पर तंज कसते हुए पूर्व मंत्री ने कहा कि अभी तक किसी भी कांग्रेसी विधायक ने बीजेपी के खिलाफ कोई आरोप नहीं लगाए हैं। कांग्रेस के विधायक स्वयं की सरकार से ही खफा है और खुद की सरकार के खिलाफ भी आरोप लगा रहे हैं। वहीं नेता प्रतिपक्ष की राज्यपाल से मुलाकात पर उन्होंने कहा कि वह हमारे दल के नेता हैं। वो जिनसे भी मिलेंगे हम उनके साथ हैं।