निर्दलीय ‘शेरा’ के तीखे तेवर

Independent-MLA-Surendra-Singh-Shera-Angered-from-the-Congress-Government-

भोपाल| कमलनाथ मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किये जाने से नाराज चल रहे निर्दलीय विधायक ठाकुर सुरेंद्र सिंह शेरा ने एक बार फिर तीखे तेवर दिखाए हैं| विधायक ने कांग्रेस नेताओं पर उनकी उपेक्षा करने का आरोप लगाया है| उन्होंने कहा कि कांग्रेस विधायक दल की बैठक में उन्हें नहीं बुलाया गया, वहीं उनके विधानसभा क्षेत्र में होने वाले सरकारी कार्यक्रमों के पोस्टर बैनर से भी उनकी फोटो गायब है| उनकी उपेक्षा की जा रही है, कुछ ऐसे नेता हैं जो मुख्यमंत्री कमलनाथ को वास्तविकता से रूबरू नहीं होने दे रहे| 

दरअसल, विधानसभा पहुंचे सुरेंद्र सिंह शेरा ने मीडिया से चर्चा में कहा कि प्रदेश मे एक दो ऐसे नेता हैं जो मुख्यमंत्री कमलनाथ को वास्तविकता से रूबरू नही होने दे रहे। विधायको से नही मिलने दे रहे। मैने कई बार समय मागा, लेकिन मुलाकात के लिए समय नहीं मिला। विधायक ने कहा मुझे काँग्रेस विधायक दल की बैठक में नहीं बुलाया गया| मेरे विधानसभा में सरकारी कार्यक्रमों में लगने वाले बैनर – पोस्टर से मेरा चेहरा ही गायब है, शायद कांगेस को मेरा चेहरा पसंद नहीं है| शिकायत के सवाल पर उन्होंने कहा किससे शिकायत करू, दो महीने से राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से मिलने का वक्त मांग रहा हूं| लेकिन अभी तक उनसे मुलाकात का भी समय नहीं मिला|  वहीं पत्नी को लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस से टिकट की मांग पर शेरा ने कहा कि पत्नी को टिकट नहीं दिया तो निर्दलीय लड़ाऊंगा| 

बता दें कि मप्र में 114 सदस्यों वाली कांग्रेस सरकार ने सपा बसपा और निर्दलीय विधायकों के समर्थन से सरकार बनाई है| बुरहानपुर सीट से कांग्रेस के बागी होकर निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में जीते ठाकुर सुरेंद्र सिंह शेरा ने सरकार को समर्थन दिया है| सुरेंद्र सिंह शेरा मंत्री पद की आस लिए बैठे थे| लेकिन मंत्री पद नहीं मिलने से वह नाराज चल रहे हैं और कई बार अपनी नाराजगी जाहिर कर चुके हैं| वहीं खंडवा से अपनी पत्नी के लिए लोकसभा चुनाव में टिकट की दावेदारी कर रहे हैं| एक बार फिर निर्दलीय विधायक ने एक बार फिर कांग्रेस के खिलाफ तीखे तेवर दिखाए हैं और टिकट नहीं मिलने पर निर्दलीय चुनाव लड़ाने की बात कही है|