इंदौर में दो और कोरोना पॉजिटिव ने तोड़ा दम, अब तक 32 की मौत

इंदौर।आकाश धोलपुरे।

मध्यप्रदेश के इंदौर में दिनों दिन स्थिति काबू होने के बजाय भयावह होती जा रही है। आज रविवार को फिर से 2 कोरोना पॉजिटिव मरीजों ने दम तोड़ दिया है।इसके पहले इंदौर में 2 डॉक्टर सहित चार मरीजों की मौत हो चुकी है,  वही 49 कोरोना पॉजिटिव मिले है। इसके साथ ही इंदौर में अकेले मौतों का आंकड़ा 32 पहुंच गया है। मध्यप्रदेश में अब तक 42 लोगों की मौत हो चुकी है और कोरोना पॉजिटिव का आंकड़ा 531 के करीब पहुंच गया है। CMHO प्रवीण जड़िया ने इसकी पुष्टि कर दी है।उधर, 30 अप्रैल तक लॉकडाउन बढ़ना तय माना जा रहा है। मुख्यमंत्री आज शाम तक लॉकडाउन बढ़ाए जाने की घोषणा कर सकते हैं। हालांकि, इस बार वे कुछ मामलों में छूट दे सकते हैं।

दरअसल,प्रदेश के आर्थिक शहर इंदौर में कोरोना को लेकर नित नए मामले सामने आ रहे है। रविवार को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रवीण जाडिया ने कोरोना से 2 और लोगो की मौत की पुष्टि की है। डॉ. जाडिया ने बताया कि शनिवार की रिपोर्ट के मुताबिक इंदौर जिले के 49 मरीज कोरोना पॉजिटिव पाए गए है जिसके बाद अब तक इंदौर जिले में 298 मरीज पॉजिटिव हो चुके है। वही उन्होंने बताया 2 लोगो की मौत भी एमआरटीबी हॉस्पिटल में हो गई है और मरने वालों की संख्या 32 तक जा पहुंची है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक मरने वाले दोनों लोग पुरुष थे जिनमें 65 वर्षीय वृद्ध निवासी सोमनाथ की चाल और 70 वर्षीय वृद्ध निवासी मोती तबेला है। दोनों ही मामलो में मौत पहले हो चुकी थी और रिपोर्ट आने के बाद पता चला है कि दोनों मरीज, कोरोना पॉजिटिव थे।इससे पहले खबर आई थी कि इंदौर के बॉम्बे हॉस्पिटल के एक डॉक्टर और एक नर्स कोरोनो वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। एमजीएम मेडिकल द्वारा जारी रिपोर्ट में इसका खुलासा हुआ है। साथ ही कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 298 हो गई है। इंदौर में अब तक इस घातक संक्रमण से 32 लोगों की मौत हो चुकी है।

आज 8 मरीज और हो सकते है डिस्चार्ज

कोरोना संकट के बीच शहर के लिए राहत भरी खबर ये है कि शहर के एमआरटीबी हॉस्पिटल से आज 8 लोगो को डिस्चार्ज किया जा सकेगा। दरअसल, 8 मरीजो की दूसरी रिपोर्ट भी निगेटिव आई है अब तक आधिकारिक जानकारी के मुताबिक शहर में 29 लोगो को डिस्चार्ज किया जा चुका है। आने वाले दिनों के कोरोना से जंग जीतकर घर लौटने वाले मरीजो की संख्या में भी तेजी आने की उम्मीद भी प्रशासन द्वारा जताई जा रही है।