इंदौर।आकाश धोलपुरे।

कोविड – 19 तेजी से अपनी पकड़ इंदौर में मजबूत कर रहा है। जहां प्रशासन का फोकस शहर के रानीपुरा, नयापुरा, दौलतगंज, हाथीपाला, टाटपट्टी बाखल, चंदननगर और खजराना सहित अन्य क्षेत्रों में है। वही शहर के सुखलिया, शिक्षक नगर, लोकमान्य नगर, मधुबन कालोनी, नेहरू नगर, मूसाखेड़ी क्षेत्रो में भी अब प्रशासन कोई कोताही नही बरतना चाहता है। कल शाम कोइंदौर के अरविंदो अस्पताल में रानीपुरा निवासी 49 वर्षीय व्यक्ति की मौत कोरोना से हो चुकी है जिसके बाद अब इंदौर में कोरोना पॉजिटिव मृतकों की कुल संख्या 16 हो चुकी है वही 173 कोरोना पॉजिटिव मरीज अब तक इंदौर में सामने आ चुके है।
बुधवार को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी इंदौर डॉ. प्रवीण जाडिया ने बताया कि अलग अलग टीमो द्वारा मंगलवार को 600 लोगो की स्क्रीनिंग की गई है साथ ही सर्वेक्षण की तीन अलग अलग टीमो ने कंटेन्मेंट एरिया रानीपुरा, नयापुरा, दौलतगंज और टाटपट्टी बाखल से कुल 1200 घरों का सर्वेक्षण किया जिनमें से 40 लोगो में लक्षण पाए गए है जिनकी सैम्पलिंग भी कराई गई है और इसके अलावा 82 लोगो की क्वांरन्टीन हाउस में सैम्पलिंग कराई गई है। डॉ. जाडिया की माने तो शहर में बनाये गए सेंटर्स और घरों में अब तक 700 लोग क्वांरन्टीन है जिनमे से अधिकांश लोगों को स्क्रीनिंग की जा चुकी है और सैंपल भी लिए जा चुके है। डॉ. जाडिया ने राहत भरी खबर देते हुए ये भी बताया कि अभी 20 लोग ऐसे जो डिस्चार्ज की स्थिति में है जिनकी पहली रिपोर्ट निगेटिव आई है और दूसरी रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ऐसे लोगो को अस्पताल से डिस्चार्ज किया जाएगा।
खजराना के 12 हजार घरों की स्क्रीनिंग आज से शुरू

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी इंदौर ने बताया कि कल इंदौर कलेक्टर ने जो प्रशिक्षण दिया था उसके आधार पर आज खजराना क्षेत्र के 12 हजार घरों में 50 टीम सर्वेक्षण कर रही है जिनमे आशा, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और शिक्षक शामिल है। हर 3 से 4 टीम को एक एएनएम द्वारा लीड किया जा रहा है वही हर 5 से 10 टीम के ऊपर एक डॉक्टर होंगे जो संदिग्ध कोविड पेशेंट का परीक्षण करेंगे और यदि किसी मे लक्षण पाए जाएंगे तो मोबाइल टीम पेशेंट का सैम्पल लेकर जरूरी कदम उठाएगी।