एमपी के पूर्व डीजीपी ऋषि कुमार शुक्ला बनाए गए सीबीआई निदेशक

-IPS-officer-Rishi-Kumar-Shukla-as-the-new-CBI-Director

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व डीजीपी और 1983 के आईपीएस अफसर ऋषि कुमार शुक्ला को सीबीआई का निदेशक बनाया गया है। इससे पहले वे मध्य प्रदेश के डीजीपी पद से हटाए गए थे और उन्हें राज्य सरकार ने  चेयरमैन मध्यप्रदेश पुलिस हाउसिंग बोर्ड बनाया था। 

सीबीआई निदेशक की दौड़ में पांच अधिकारियों के नाम चल रहे थे। पूर्व मध्य प्रदेश डीजीपी ऋषि कुमार शुक्ला (1983 एमपी कैडर), सीआरपीएफ प्रमुख आरआर भटनागर (1984 यूपी), एनएसजी प्रमुख सुदीप लखटकिया (1984 यूपी), राष्ट्रीय अपराधशास्त्र एवं विधि विज्ञान संस्थान के प्रमुख  जावीद अहमद (1985 यूपी) और बीपी आरएंडडी चीफ एपी माहेश्वरी (1984 यूपी)।

केंद्र सरकार द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि, दिल्ली विशेष पुलिस स्थापना अधिनियम, 1946 की धारा 4 क (1) के अनुसार गठित समिति द्वारा अनुशंसित पैनल के आधार पर, मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति ने श्री ऋषि कुमार शुक्ला, आईपीएस (एमपी: 1983) की नियुक्ति को मंजूरी दी। उनका कार्यकाल दो वर्षोंं का होगा।

आलोक वर्मा को हटाए जाने के बाद से सीबीआई प्रमुख का पद 10 जनवरी से ही खाली है। भ्रष्टाचार के आरोपों पर गुजरात कैडर के आईपीएस अधिकारी राकेश अस्थाना के साथ वर्मा का टकराव हुआ था। वर्मा के हटाए जाने के बाद से एम. नागेश्वर राव अंतरिम सीबीआई प्रमुख के तौर पर काम कर रहे हैं। अंतरिम निदेशक के तौर पर राव की नियुक्ति के खिलाफ दायर याचिका सुप्रीम कोर्ट में फिलहाल लंबित है।