Jabalpur : कलेक्टर की बड़ी कार्रवाई, डॉक्टर सहित अधिकारी-कर्मचारियों के वेतन रोके, नोटिस जारी

CEO

जबलपुर, संदीप कुमार। स्वास्थ्य सुविधा पर लापरवाही बरतने को लेकर जबलपुर (jabalpur) कलेक्टर (collector) कर्मवीर शर्मा (karmveer sharma) ने बड़ी कार्रवाई की है। कार्रवाई करते हुए 35 डॉक्टर अधिकारी-कर्मचारियों के वेतन (salary) रोकने सहित करीब 50 अधिकारी- कर्मचारियों को कारण बताओ नोटिस (notice) जारी किया है। यह कार्यवाही स्वास्थ्य विभाग (health department) की समीक्षा बैठक के दौरान हुई है।

जानकारी के मुताबिक स्वास्थ्य विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की रिपोर्ट में यह पाया गया कि यह तमाम स्वास्थ्य अधिकारी, जिन्हें नोटिस जारी किया गया है। यह लोग शासन की योजनाओं का संचालन करने में नाकाम साबित हुए हैं। खासतौर पर टीकाकरण-डेंगू-मलेरिया मातृ व शिशु मृत्यु दर संस्थागत प्रसव की जानकारी देने में भी यह लोग फेल हुए हैं।  लिहाजा कलेक्टर ने तमाम स्वास्थ्य अधिकारियों को फटकार भी लगाई है।

Read More: Betul : किन्नर बहनों ने पहली बार बांधी राखी, बैतूल में हुआ अनूठा आयोजन

जबलपुर कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने शहरी एपीएम संदीप नामदेव को नोटिस देने के साथ ही मेडिकल ऑफिसर की सैलरी ना निकालने के निर्देश दिए हैं। वहीं कुपोषित बच्चों की गलत जानकारी देने पर पनागर के बीएमओ डॉ.संतोष ठाकुर व बीपीएम को नोटिस देने के साथ ही सिहोरा ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर डॉ.राघवेंद्र त्रिपाठी एवं ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर कुंडम डॉक्टर सोनू शर्मा का बैठक में उपस्थित ना होने पर वेतन बृद्धि रोकने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा सोनोग्राफी सेंटरों की जांच के संबंध में मीटिंग में अनुपस्थित होने पर एल्गिन अस्पताल के अधीक्षक डॉ. आरके खरे को भी कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।