भाजपा के आंदोलन पर बरसे पटवारी, मोदी सरकार पर लगाए आरोप

भोपाल| मध्य प्रदेश में किसानों के मुद्दे पर सियासत गर्म है, भाजपा आज प्रदेश भर में प्रदेश सरकार के खिलाफ आंदोलन कर रही है| वहीं कांग्रेस ने भाजपा के प्रदर्शन को नाटक नौटंकी बताया है| कमलनाथ सरकार में मंत्री जीतू पटवारी ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा है कि बीजेपी किसानों के नाम पर घडीयाली आंसू बहा रही है| 

मीडिया से चर्चा करते हुए मंत्री पटवारी ने कहा बिहार, तमिलनाडु का प्रतिवेदन मध्यप्रदेश के प्रतिवेदन के बाद गया लेकिन उनको राहत राशि जारी कर दी गयी, लेकिन अब तक मध्यप्रदेश को राहत राशि नहीं दी गयी| मध्य प्रदेश के साथ मोदी सरकार भेदभाव कर रही है| शिवराज सिंह चौहान किसानों को अपना भगवान् बताते हैं, ऐसे लोगों चुल्लू भर पानी मे डूब मरना चाहिए| शिवराज चाहते है किसानों का भला न हो| किसानों की कोई सहायता न हो, जिस पर भाजपा अपनी राजनीति कर सके| 

मंत्री पटवारी ने कहा बीजेपी राज में किसानों पर कर्जा लगातार बढ़ता गया है, पूर्व सीएम शिवराज से सवाल पूछते हुए उन्होंने कहा किसान तो आपके लिए भगवान थे, फिर किसानों पर कर्जा चढ़ा कैसे, इस बात का शिवराज जवाब दें| आपके विधायक किसानों को लेकर विवादित बयान देते रहते है, 15 हजार किसानों ने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज के कार्यकाल के दौरान आत्महत्या की है| बिजली बिल वसूली के नाम पर किसानों का लज्जित किया जाता था, घरों के बाहर से मोटरसाइकिल उठा ली जाती थी, आपके वक्तत्व जरूर बढ़िया थे, हमने किसानो के बिजली के दाम कम किये, मंडी में उसको परेशानी न हो इसका नियम लेकर आये, कर्जमाफी की, हमारा उद्देश्य किसानों की क्रय शक्ति को बढ़ाना था| उन्होंने कहा सहकारी बैंकों में बीजेपी के भर्ष्टाचार के कारण तीन बैंकों का विलय हुआ वे बेलआउट हो गयी, सहकारिता के सिस्टम को बीजेपी ने खत्म कर दिया था| 

विपक्ष में रहते हुए प्याज, आलू की बोरी उठाने पर पटवारी ने कहा मैं बीजेपी के नेताओं को बताना चाहता हूं कि प्याज, आलू और लहसुन की बोरी तब उठाई थी जब उनको उपज के सही दाम नहीं मिल रहे थे| लेकिन अब ऐसा नहीं है| केंद्र सरकार ने भेदभाव किया है, हम किसानों के हक के लिए दिल्ली तक लड़ाई लड़ेंगे| यहां का किसान जागरूक है, वो आपको आगे भी सबक सिखाता रहेगा|