दिग्गी के ट्वीट पर सिंधिया का किनारा, PCC चीफ बनने को लेकर कही ये बात

ग्वालियर। अपने एक दिवसीय दौरे पर कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया  आज ग्वालियर पहुंचे। रेलवे स्टेशन पर कांग्रेस नेताओं ने उनका जोशीला स्वागत किया।  मीडिया से बात करते हुए सिंधिया ने राम मंदिर पर आये सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर कहा कि  राजनीति समाप्त हो गई है । देश में अमन चैन और आपसी सद्भाव कायम है । अबप्रगति और विकास के मुद्दे पर काम होगा। सुप्रीम कोर्ट का फैसला स्वागत योग्य है। दिग्गी के ट्वीट पर मीडिया के सवाल सिंधिया ने कहा कि मैं किसी के बयान पर प्रतिक्रिया नहीं देता। 

वहीं पीसीसी चीफ के सवाल पर सिंधिया ने कहा कि मैं जनसेवा और सेवाभाव के लिए काम करता हूँ किसी पद के लिए कभी काम नहीं करता।पद व सत्ता के लिए राजनीति में नहीं हू्‌ं। मैं जनसेवा के लिए राजनीति करता हूं। जनता की पीड़ा को सरकार को तक पहुंचाना मेरा दायित्व भी है। महाराष्ट्र में सरकार को लेकर असमंजस पर सिंधिया ने कहा कि इसमें कोई दो राय नहीं कि जनमत बीजेपी और शिवसेना गठबंधन को मिला है अब बड़ी विचित्र स्थिति बनी है। गौरतलब है कि सिंधिया एक दिवसीय दौरे पर ग्वालियर आये है । वे कांग्रेस द्वारा आयोजित दीपावली मिलन समरोह सहित अन्य कार्यक्रमों में शामिल होकर रात को दिल्ली वापस लौट जायेंगे।

अगला चुनाव ग्वालियर संसदीय क्षेत्र से लड़ने के सवाल पर सिंधिया ने कहा गुना-शिवपुरी सांसद था तब भी ग्वालियर के साथ भिंड, मुरैना, श्योपुर व दतिया के विकास के लिए सदैव प्रयासरत रहा और रहूंगा। क्षेत्र के विकास के लिए स्थानीय अधिकारियों से चर्चा करता हूं। अब सरकार है, इसलिए सीधा संवाद करता हूं। इससे पहले केंद्र सरकार में मंत्री था, इसलिए जिला व राज्य की बजाए केंद्र के अधिकारियों व मंत्रियों को पत्र लिखता था। ग्वालियर के अलावा अतिवृष्टि के समय मुरैना- भिंड के एक-एक गांव में गया हूं। सत्ता व पावर के लिए कभी राजनीति नहीं की। केंद्रीय मंत्री होने के बाद भी लाल बत्ती नहीं लगाई। अब भी पदों का कोई लालच नहीं।