कमलनाथ की शिवराज को सलाह- नई घोषणाओं से पहले पुराने वादे निभाएं

कमलनाथ

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (cm shivraj singh chouhan) द्वारा गो कैबिनेट (gau cabinet) बनाने का ऐलान किए जाने पर पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कमल नाथ (former cm kamalnath) ने तंज कसा है। उन्होंने कहा है कि शिवराज ने दो साल पहले गौ संवर्धन के लिए की गई घोषणा को भूलकर अब नई घोषणा कर दी है।

कमल नाथ ने कहा कि 2018 के विधानसभा चुनाव के पहले प्रदेश में गौ मंत्रालय बनाने की घोषणा करने वाले शिवराज सिंह अब गोधन संरक्षण व संवर्धन के लिए गौ कैबिनेट बनाने की बात कर रहे हैं। उन्होंने चुनाव के पूर्व की गयी गो मंत्रालय बनाने के साथ-साथ पूरे प्रदेश में गौ अभ्यारण और गौशालाओं के जाल बिछाने की बात भी कही थी। प्रत्येक घर में भी छोटी-छोटी गौशाला बनाने की भी बात उन्होंने अपनी चुनावी घोषणा में कही थी।

कमल नाथ ने आगे कहा अपनी पूर्व की घोषणा को भूलकर शिवराज सिंह फिर एक नई घोषणा कर रहे हैं। सभी जानते हैं कि अपनी 15 वर्ष की सरकार में व वर्तमान 8 माह में शिवराज सरकार ने गौ माता के संरक्षण व संवर्धन के लिए कुछ भी नहीं किया, उल्टा गौमाता के लिये चारे की राशि में कांग्रेस सरकार ने जो बीस रुपये प्रति गाय का प्रावधान किया था, उसे भी कम कर दिया।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कांग्रेस के वचन पत्र का जिक्र करते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार ने अपने वचन पत्र में वादा किया था कि हमारी सरकार आने पर हम एक हजार गौशालाओं का निर्माण शुरू करायेंगे। हमने अपने वचन को पूरा किया, प्रदेश भर में गौशालाओं का निर्माण व्यापक स्तर पर शुरू करवाया। कमल नाथ ने आगे कहा कि कांग्रेस सरकार के गौ माता के संरक्षण व संवर्धन के लिए किए जा रहे कामों से भाजपा सरकार को थोड़ी सदबुद्धि तो आयी और उन्होंने गौमाता की सुध लेने की सोची, लेकिन यदि गौ माता के संरक्षण व संवर्धन के लिए सही मायनों में काम करना है तो कांग्रेस सरकार की तरह ही भाजपा सरकार प्रदेश भर में गौशालाओं का निर्माण शुरू कराये और गौ माता को लेकर अपनी पूर्व की सारी घोषणाओं को पूरा करे तभी सही मायनों में गौमाता का संरक्षण व संवर्धन हो सकेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here