BJP के दृष्टि पत्र में कुछ नया नहीं, पुरानी घोषणाओं को ही दोबारा किया शामिल :कमलनाथ

kamalnath-attack-on-bjps-s-manifesto

भोपाल।

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने आज अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया। इस बार महिलाओं के लिए अलग से घोषणा-पत्र जारी किया गया है, जिसे पार्टी ने नारी शक्ति संकल्प पत्र नाम दिया गया है जबकि दूसरे घोषणा पत्र को पार्टी ने दृष्टि पत्र नाम दिया है।’दृष्टि पत्र’ में महिलाओं, युवा और किसानों के साथ -साथ हर वर्ग पर फोकस किया गया है। पीसीसी चीफ कमलनाथ ने भाजपा के इस  दृष्टि पत्र को धोखा और छलावा मात्र बताया है।

नाथ ने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा है कि भाजपा का आज जारी दृष्टि पत्र धोखा व छलावा मात्र है। इसमें कुछ नया शामिल नहीं किया गया है। पुरानी घोषणाओं को ही दोबारा शामिल किया। पुराने घोषणा पत्र की बातें ही आज तक अधूरी है, नयी घोषणाएँ से गुमराह की कोशिश की गई है।भाजपा ने वर्ष 2003 , वर्ष 2008 , वर्ष 2013 के घोषणा पत्र पर तो दृष्टि नहीं डाली, उसकी कई घोषणाओं को आज तक पूरा नहीं किया। इस दृष्टि पत्र के पहले भाजपा को पुराने घोषणा पत्र की अधूरी घोषणाओं पर बात करना थी।

नाथ ने आगे कहा कि इस घोषणा पत्र से कांग्रेस के इस आरोप की पुष्टि हुई है कि भावन्तर योजना किसान विरोधी है। भाजपा ख़ुद को इस योजना पर भरोसा नहीं, इसलिये किसानो को नई घोषणाओ के नाम पर गुमराह की कोशिश की गई है।भाजपा के इस घोषणा पत्र में महिलाओं की सुरक्षा , किसानो की आत्महत्या रोकने , उनकी क़र्ज़ माफ़ी , युवाओं द्वारा बढ़ती बेरोज़गारी के कारण की जा रही आत्महत्याएँ को रोकने , कुपोषण , अवैध उत्खनन रोकने , माँ नर्मदा के संरक्षण , कुपोषण को लेकर कुछ नहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here