कमलनाथ कैबिनेट की बैठक में बड़े फैसले, इन प्रस्तावों पर लगी मुहर

भोपाल। मुख्यमंत्री कमलनाथ की अध्यक्षता में आज साल की पहली कैबिनेट की अहम बैठक हुई। इस बैठक में कई महत्वपूर्ण प्रस्तावों पर मुहर लगी है। सरकार ने मुख्यमंत्री कर्मचारी स्वास्थ्य बीमा योजना की शुरुआत की है। कैबिनेट बैठक में योजना के मसौदे पर मुहर लगी है।

मुख्यमंत्री कर्मचारी स्वास्थ्य बीमा योजना की शुरुआत की गई है। साढ़े 12 लाख कर्मचारियों को इस योजना से जोड़ा जाएगा। पेंशनर को भी योजना का लाभ मिलेगा। योजना के तहत इसमे 10 लाख रुपए तक  कैशलेस इलाज की सुविधा दी जाएगी। पांच लाख रुपए तक साधारण बीमारी के लिए और 10 लाख रुपए तक गंभीर बीमारी में कैशलेस इलाज कराया जा सकेगा। 1 अप्रैल से पूरे प्रदेश में यह योजना शुरू होगी।

वहीं कैबिनेट में  उच्च शिक्षा विभाग के अंतर्गत नवीन पद स्वीकृत किये गए हैं। अतिथि विद्ववानों के साथ ही नए पद भरे जाएंगे। 20 जनवरी तक भर्ती प्रक्रिया को पूरा किया जाएगा। उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने बताया कि किसी भी अतिथि विद्ववानों को बाहर नहीं किया जायेगा। ज्यादा से ज्यादा अतिथि विद्वानों को इसमे लिया जाएगा।

मंत्री सज्जन वर्मा ने बताया सरकार अब तक 21 लाख किसानों का कर्ज माफ कर चुकी है। अब एक और सूची तैयार की गई है। पहली सूची के किसानों का ऋण माफ होने के बाद अबऋण माफी की अगली सूची का काम शुरू किया जा रहा है। इसमे करीबन 10 लाख किसानों का ऋण माफ किया जाएगा। उन किसानों का भी ऋण  माफ होगा जिनके एक से ज्यादा खाते है। उनका मामला सबसे आखिरी में देखा जाएगा।