कमलनाथ सरकार के कामों की इस तरह होगी ब्रांडिंग, ये है रणनीति

kamalnath-government-will-send-letter-to-19-lakh-families

भोपाल। मध्य प्रदेश में कांग्रेस जनता तक पहुंचने के लिए नए तरीके आजमा रही है। लोकसभा चुनाव से पहले सरकार अपने कामों का प्रचार करने के लिए अब सीधे जनता से जुड़ना चाहती है। यही कारण है अब सरकार जनता तक सीधे पहुंचने के लिए अपने विभागों का सहारा ले रही है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक 19 लाख बिजली उपभोक्ताओं को विभाग की ओर से सरकार के काम काज का एक पत्र भेजा जाएगा। 

दरअसल, सरकार ने अभी तक अपने वचन पत्र में किए गए वादों में काफी पूरे करने के लिए कदम उठाए हैं। इसमें सबसे बड़ा वादा है किसान कर्ज माफी का। वहीं, रोजगार देने के लिए कमलनाथ सरकार ने युवाओं के लिए स्वभिमान योजना शुरू की है। जिसके पंजीयन किए जा रहा हैं। वहीं, बेटियों के विवाह में मिलने वाली राशि को भी सरकार ने बढ़ा दिया है। बिजली बिल भी सरकार ने हाफ करने का ऐलान कर दिया है। चूंकि अप्रैल में लोकसभा चुनाव हेने हैं। उससे पहले सरकार इन सब कामों को भुनाना चाहती है। ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह ने मीडिया को बताया बिजली विभाग की ओर से प्रदेश के 19 लाख उपभोक्ताओं को पत्र भेजकर सरकार द्वारा किए गए कामों की जानकारी दी जाएगी। इसका मकसद है सरकार के कामों को जनता तक पहुंचाना। पत्र के माध्यम से हम बिजली उपभोक्ताओं को ये जानकारी देंगे। 

गौरतलब है कि सत्ता में आने के बाद सरकार ने फिजूलखर्ची से बचने के लिए विभिन्न कदम उठाने की बात कही थी। इसमें एक सबसे बड़ा कदम था अखबारों में सरकारी विज्ञापन बंद करना। कमलनाथ सरकार का कहना था कि हमारा काम बोलेगा इसलिए हमें विज्ञापन देकर अपने काम का प्रचार करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। लेकिन अब सरकार प्रचार के लिए दूसरे रास्ते तलाश रही है।