दिग्विजय ही नहीं, बाकी बड़े नेताओं को भी कठिन सीट पर आजमाएंगे कमलनाथ

Kamalnath-want-other-prominent-leader-to-fight-on-bjp-fort-seat

भोपाल/छिंदवाड़ा। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल लोकसभा सीट से पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह को उम्मीदवार घोषित करने के बाद छिंदवाड़ा में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने एक बार फिर बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा कि केवल दिग्विजय ही नहीं और भी पार्टी के बड़े नेताओं को पार्टी कठीन सीटोंं से उम्मीदवार बना सकती है। इसको लेकर पार्टी फोरम में विचार मंथन चल रहा है। बता दें सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को इंदौर से टिकट देने की मांग की जा रही है। उनके अलावा जबलपुर सीट पर भी कांग्रेस किसी बड़े चेहरे को उतारने के मूड में है। 

छिंदवाड़ा पहुंचे कमलनाथ ने कहा कि इस बार लोकसभा चुनाव के बाद बीजेपी की सरकार किसी भी हाल में नहीं बनेगी। अपने तीन महीने के कार्यकाल के दौरान जनता से किए गए वादों को पूरा करने की उपलब्धियों को लेकर जनता के बीच जाएंगे। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि हमले बीजेपी की 15 साल की सरकार से अधिक काम तीन महीने में किया है। उन्होंने कहा कि आलाकमान से जहां प्रचार करने का आदेश मिलेगी वह वहां जाएंगे। इस दौरान उनके पुत्र नकुलनाथ भी साथ थे। 

गौरतलब है कि इंदौर, ग्वालियर और जबलपुर सीट पर कांग्रेस ने अभी पत्ते नहीं खोले हैं। पार्टी इन सीटों पर किसी भी हालत में जीत चाहती है। प्रदेश के चारोंं महानगर कई दशकों से बीजेपी का गढ़ माने जाते हैं। जबलपुर से कांग्रेस में राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा का नाम सबसे आगे है। वहीं, ग्वलियर से सिंधिया की पत्नी प्रियदर्शनी का नाम लगभग तय माना जा रहा है। इसके फैसला सिंधिया के बाद आलाकमान को करना है। वहीं, इंदौर पर सिंधिया के नाम की चर्चा है लेकिन प्रबल दावेदारी उनकी नहीं मानी जा रही है।