मध्य प्रदेश में सिंधिया से ज्यादा सभाएं करेंगे कमलनाथ

kamalnath-will-do-public-meeting-in-madhya-pradesh-

भोपाल। लोकसभा चुनाव के लिए प्रदेश में कांग्रेस पूरी तरह से तैयार है। मुख्यमंत्री कमलनाथ इस बार चुनाव के लिए सबसे अधिक सभाएं करेंगे। उनके बाद सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया प्रदेश भर में सभाएं करेंगे। वह कांग्रेस की स्टार प्रचारकों की लिस्ट में भी शामिल किए गये हैं। सूत्रों के मुताबिक विधानसभा चुनाव की तरह ही पार्टी के बड़े नेता संगठन को एकजुट रखने के लिए सभाएं करेंगे। 

दरअसल, विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी थी। पूर्व केंद्रीय मंत्री और सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सबसे अधिक सभाएं की थीं। लेकिन लोकसभा चुनाव में इस बार मुख्यमंत्री कमलनाथ सभाओं की शुरूआत करेंगे। वह 13 अप्रैल से जनसभा में हुंकार भरेंगे। उनकी पहली सभा सीधी के देवसर में होगी। इसके बाद वह सिलसिलेवार शहडोल और रीवा लोकसभा में भी जाएंगे। यही नहीं उनकी पुत्र के लिए भी वह छिंदवाड़ा में सक्रिय रहेंगे। 

यहां नहीं होंगी सिंधिया की सभाएं

प्रदेश के पहले चरण में होने वाले मतदान की सीटों पर सिंधिया सभाएं करने नहीं जाएंगे। वह बाकी तीनों चरणों की सीटों पर सभाएं करेंगे। प्रदेश में पहले चरण की वोटिंग 29 अप्रैल को होना है। इसके बाद 6, 12 और 19 मई को मतदान होना है। इन सीटों पर सिधिंया की सभाएं होंगे। सिंधिया के पास उत्तर प्रदेश की भी जिम्मेदारी है। वह वहां फिलहाल सक्रिय हैं। वहा से लौटकर वह बुंदेलखंड में सभा करेंगे। वह सागर, खजुराहो लोकसभा क्षेत्र में प्रत्याशियों को लिए सभा करेंगे। इसके अलावा ग्वालियर-चंबल की सीटों की भी जिम्मेदारी सिंधिया पर है। वह भिंड, मुरैना गुना और ग्वालियर में भी सभाएं करेंगे। 

दिग्गी भी उतरें मैदान में

भोपाल से उम्मीदवार बनाए गए दिग्विजय सिंह भी प्रदेश की अन्य सीटों पर उम्मीदवारों के लिए सभाएं करेंगे। वह आधा दर्जन लोकसभा सीटों पर सभाएं करेंगे। राजगढ़, उज्जैन, देवास, इंदौर, धार और झाबुआ लोकसभा सीटों पर वह सभाएं करेंगे।