Congress-govt-renamed-Shivraj's-Sambal-Yojna-in-mp

भोपाल।

मध्यप्रदेश(madhyapradesh) में फैले कोरोना(corona) संक्रमण और अनलॉक 1(unlock 1) के बीच एक बार फिर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ(former chiefminister kamalnath) ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(CM Shivraj singh chouhan) को पत्र लिखा है। अपने लिखे पत्र में पूर्व मुख्यमंत्री नाथ ने मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना की सहायता राशि विवाह जोड़े को मान्य करने की मांग की है।

दरअसल मंगलवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखते हुए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि 3 माह से लॉक डाउन के कारण विभाग कार्यक्रम के आयोजन में कठिनाई आ रही है। लेकिन अब शर्तों के साथ विवाह या निकाह करने की अनुमति प्रदान की गई है। कन्या विवाह योजना के अंतर्गत प्रदेश के अनेक युवक युवतियों के पंजीयन मुख्यमंत्री कन्या विवाह निकाय योजना के अंतर्गत सामूहिक विवाह कार्यक्रम हेतु किए गए हैं। लेकिन मुख्यमंत्री कार्यक्रम आयोजित ना होने पाने की वजह से कई अनेक जोड़ो का विवाह रुक गया है। विवाह जोड़ों के पास सीमित संसाधन उपलब्ध थे। वही नवविवाहित जोड़ों को योजना का कोई लाभ नहीं मिल पाया है। पूर्व मुख्यमंत्री नाथ ने यह भी कहा कि हमारी सरकार ने मुख्यमंत्री कन्या विवाह/निकाह योजना की सहायता राशि को 28000 से बढ़ाकर 51000 किया था। ताकि नवजीवन प्रारंभ करने में ऐसे नवविवाहित जोड़ों को सहायता मिल सके।

वहीं उन्होंने मुख्यमंत्री चौहान से मांग की है कि 3 माह में जिन युवक-युवतियों का विवाह संपन्न हुआ है उन्हें मुख्यमंत्री कन्या विवाह निकाह योजना के तहत उनका विवाह मान्य करते हुए 51000 रूपए की सहायता प्रदान की जाए। उन्होंने मुख्यमंत्री चौहान से मांग करते हुए कहा है कि जल्द से जल्द मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इस विषय पर निर्णय लेने का कष्ट करें ताकि नवदंपति का जीवन सुख और खुशियों के साथ शुरू हो सके।