पार्टी के बागी नेताओं पर कपिल सिब्बल का ट्वीट, कहा- केंद्र में फ़ैल गया है वायरस, Vaccine की जरूरत

नई दिल्ली।

मध्यप्रदेश में नेताओं की बगावत के बाद कांग्रेस की सरकार गिरने और फिर राजस्थान में सचिन पायलट के बगावत के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने एक बड़ी मांग कर दी है। कपिल सिब्बल ने मांग की कहा है की पार्टी से बगावत करने वाले नेताओं को अगले चुनाव लड़ने पर रोक लगाई जाए।

दरअसल सिब्बल ने रविवार को ट्वीट करते हुए ये मांग की है कि दल बदलने वाले सभी जनप्रतिनिधियों को 5 साल तक किसी सरकारी पद पर रहने और अगले चुनाव लड़ने पर प्रतिबंध लगाने के लिए दल बदल विरोधी कानून में संशोधन करना चाहिए। सिब्बल ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए ट्वीट करते हुए कहा था कि निर्वाचित सरकारों को गिराने के लिए भ्रष्ट तरीकों का वायरस दिल्ली में फैल गया है।इसके ‘एंटीबॉडीज दसवीं अनुसूची के संशोधन में निहित हैं। सभी दल-बदलुओं के पांच साल तक किसी सरकार पद पर रहने और अगला चुनाव लड़ने पर प्रतिबंध लगाया जाए।टीके की जरूरत है।दरअसल राजस्थान में उलझे सियासी हलचल के बीच खुले तौर पर बगावत करने वाले सचिन पायलट को राजस्थान के उपमुख्यमंत्री और पीसीसी अध्यक्ष पद से बर्खास्त कर दिया गया था।

बता दें कि मध्य प्रदेश में कांग्रेसी नेताओं के बगावत के बाद कमलनाथ की सरकार गिर गई थी। जिसके बाद प्रदेश में बीजेपी ने सरकार बनाई थी। वही घटनाक्रम राजस्थान में दोहराया जा रहा है। जहां उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के पार्टी से बगावत करने के बाद राजस्थान में भी संकट के बादल घिरे हुए हैं। ऐसे में कपिल सिब्बल की तरफ से इस तरह का बयान आना बिल्कुल भी चौंकाने वाला नहीं है।