Lockdown: कोरोना के बढ़ते केसों पर राज्य सरकार सख्त, 31 अक्टूबर तक लॉकडाउन की घोषणा

कोरोना संक्रमण की संभावित वृद्धि को देखते हुए, 31 अक्टूबर तक कोरोना लॉकडाउन लागू रहेगा।

लॉकडाउन
लॉकडाउन

चेन्नई, डेस्क रिपोर्ट। देश भर में एक बार फिर से कोरोना केसों (corona cases) में बढ़ोतरी देखी जा रही है। कोरोना के बढ़ते केसों के बीच राज्य सरकारों द्वारा प्रतिबंध घोषित किए जा रहे हैं। दक्षिणी राज्यों ने अपने शहर में प्रतिबंध (restriction) के नए आदेश जारी किए हैं। तमिलनाडु सरकार के अलावा बंगलुरु में भी कोरोना लॉकडाउन (lockdown)  की घोषणा की गई है। जहां लॉकडाउन को 31 अक्टूबर तक बढ़ा दिया गया है।

राज्य सरकार ने मंगलवार को कोरोना लॉकडाउन (lock down) को 31 अक्टूबर तक बढ़ा दिया। राज्य सरकार ने तमिलनाडु (tamil nadu) और पड़ोसी राज्यों में कोरोना स्थिति का जायजा लेने और मंगलवार को महामारी को नियंत्रित करने के उपायों पर निर्णय लेने के लिए मुख्यमंत्री एम के स्टालिन (CM) की अध्यक्षता में एक बैठक बुलाई।

मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने एक बयान में कहा की आने वाले त्योहारों के मौसम और सार्वजनिक समारोहों के साथ कोरोना संक्रमण की संभावित वृद्धि को देखते हुए, 31 अक्टूबर तक कोरोना लॉकडाउन लागू रहेगा। उन्होंने आगे कहा कि सामाजिक, राजनीतिक और सांस्कृतिक कार्यक्रमों और त्योहारों और अभिषेक समारोहों पर प्रतिबंध जारी रहेगा। शुक्रवार से रविवार तक सभी पूजा स्थल बंद रहेंगे।

Read More: MPPSC : राज्य वन सेवा मुख्य परीक्षा का आंसर की जारी, यहाँ करें डाउनलोड

बेंगलुरु में corona प्रतिबंधों को 11 अक्टूबर तक बढ़ाया

इधर बेंगलुरु शहर के पुलिस आयुक्त ने corona प्रतिबंधों को 11 अक्टूबर तक बढ़ा दिया है। रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक रात का कर्फ्यू भी लागू रहेगा। स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि कर्नाटक ने रविवार को कोरोना के 775 नए मामले और 9 मौतों की सूचना दी। जिससे कुल संक्रमणों की संख्या 29.73 लाख पहुँच गई है। एक दिन में 860 डिस्चार्ज हुए, जिससे राज्य में अब तक ठीक होने वालों की कुल संख्या 29,22,427 हो गई है।

रविवार को रिपोर्ट किए गए 775 नए मामलों में से 255 बेंगलुरु शहरी से थे, क्योंकि शहर में 205 डिस्चार्ज और 3 मौतें हुईं। राज्य में कुल सक्रिय मामलों की संख्या 13,213 है। दिन के लिए सकारात्मकता दर 0.54 प्रतिशत थी, वहीं मृत्यु दर 1.16 प्रतिशत थी।