RTO अधिकारी पर लोकायुक्त का शिकंजा, शिकायतकर्ता को जांच के लिए बुलाया

MP: जिसमें ट्रक ड्राइवरों से अवैध वसूली की वीडियो रिकॉर्डिंग, पहले की गई शिकायतों की प्रतियां, पेपर कटिंग और फोटो भी शामिल थे।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। परिवहन विभाग के निरीक्षक दशरथ पटेल के ऊपर लोकायुक्त में चल रही जांच तेज हो गई है। लोकायुक्त पुलिस ने इस मामले में बयान के लिए शिकायतकर्ता सीएल मुकाती को 25 नवंबर को लोकायुक्त कार्यालय में उपस्थित होने के लिए पत्र भेजा है। पटेल पर चेक पोस्ट बैरियर पर रहते अवैध वसूली का आरोप है।

लोकायुक्त के डीएसपी आनंद कुमार यादव ने इंदौर ट्रक ऑपरेटर और ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष सीएल मुकाती को पत्र लिखकर 25 नवंबर को कार्यालय में उपस्थित होने के लिए लिखा है। दरअसल लोकायुक्त में दर्ज जांच प्रकरण 314/2021 दर्ज है जिसमें मुकाती शिकायतकर्ता है।

Read More: इस बड़ी तैयारी में MP सरकार, बोले Narottam- ऑनलाइन कंपनियों के लिए बनेगी गाइडलाइन

दिसंबर 2020 में मुकाती ने लोकायुक्त में शिकायत की थी कि बड़वानी जिले के सेंधवा चेक पोस्ट पर पदस्थ निरीक्षक दशरथ पटेल और उनके सहयोगी राहुल कुशवाह व अन्य कर्मचारियों के द्वारा प्रति वाहन 3000 से 4000 रू वसूले जाते हैं और यदि उच्च अधिकारियों को इसकी शिकायत की जाती है तो दशरथ पटेल अवैध चालन बनाने की धमकी देते हैं। शिकायत में यह भी आरोप लगाया गया था कि सेंधवा परिवहन चेकपोस्ट पर दशरथ पटेल और उनके सहयोगियों द्वारा हर रोज 70 से 80 लाख रुपए की अवैध वसूली की जाती है।

मुकाती ने यह भी आरोप लगाया था कि मामला परिवहन विभाग से संबंध होने के चलते उच्च अधिकारी कोई कार्यवाही नहीं कर रहे हैं। मुकाती ने दशरथ पटेल और उनके सहयोगी राहुल कुशवाहा द्वारा सेंधवा परिवहन चेकपोस्ट पर करोड़ों की संपत्ति अवैध तरीके से अर्जित करने और उसकी अलग से जांच कराने की मांग भी की थी। मुकाती ने अपनी शिकायत के समर्थन में विभिन्न प्रमाण भी दिए थे। जिसमें ट्रक ड्राइवरों से अवैध वसूली की वीडियो रिकॉर्डिंग, पहले की गई शिकायतों की प्रतियां, पेपर कटिंग और फोटो भी शामिल थे।