भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कमलनाथ सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने तल्ख लहजे में सरकार को चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि एंटी माफिया अभियान के नाम पर सरकार भाजपा कार्यकर्ताओं को टारगेट कर रही है। उन्हें दबाने का प्रयास किया जा रहा है। जनप्रतिनिधियों को दबाया जाएगा तो हम सड़कों पर उतरेंगे। उन्होंने सरकार क चेतवानी देते हुए कहा कि वक्त रहते संभल जाए वरना परीणाम भुगतने के लिए तैयार रहें। 

नेता प्रतिपक्ष भार्गव ने बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश का समर्थन करते हुए उन्होंने मामला दर्ज होने की निंदा की है। उन्होने कहा कि माफियाओं पर कार्रवाई के बहाने कमलनाथ सरकार भारतीय जनता पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओ को दबाने, डराने का काम रही है. इस कार्रवाई का विरोध करने वालों को माफियाओं का नुमाइंदा बता दिया जाता है।

कमलनाथ सरकार को गोपाल भार्गव की चेतावनी

गोपाल भार्गव ने कहा, ‘हमारे वरिष्ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय ने जब कमलनाथ सरकार की बदले की भावना से बीजेपी नेताओं और कार्यकर्ताओं के खिलाफ की जा रही कार्रवाई का विरोध किया तो उनके ऊपर भी आपराधिक मामला दर्ज कर दिया गया. मैं कमलनाथ सरकार के इस कारनामें की निंदा करता हूं.’ गोपाल भार्गव ने कमलनाथ सरकार को चुनौती देते हुए कहा, ‘मैं राज्य सरकार को चेतावनी दे रहा हूं.