MP: नशे के खिलाफ सख्त शिवराज सरकार, अलग-अलग जिलों में नशा मुक्ति अभियान के तहत पुलिस की कार्यवाही

मध्यप्रदेश में नशे के खिलाफ शिवराज सरकार काफी ऐक्टिव है। प्रदेश के विभिन्न शहरों में सख्त कार्यवाही पुलिस द्वारा की जा रही है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (MP) में नशे के खिलाफ शिवराज सरकार काफी ऐक्टिव है। प्रदेश के विभिन्न शहरों में सख्त कार्यवाही पुलिस द्वारा की जा रही है। 2 अक्टूबर 2022 से सीएम शिवराज सिंह चौहान ने पूरे प्रदेश के लिए नशा मुक्ति अभियान शुरू करने की घोषणा की थी, जिसके बाद से ही पुलिस अवैध शराब और अन्य नशीली पदार्थ के के स्थानों पर लगातार छापा मार रही है। अब तक कई लोगों के खिलाफ प्रकरण भी दर्ज किया जा चुका है। सोमवार को भी राज्य के अलग-अलग जिलों में नशे के खिलाफ पुलिस सख्त कार्रवाई करती नजर आई।

यह भी पढ़े…OnePlus 11 5G जल्द मचाएगा धूम, लीक हुए स्पेसिफिकेशन, मिलेगा लेटेस्ट प्रोसेसर, यहाँ जानें कब होगा लॉन्च

सिंगरौली में पुलिस सख्त

सिंगरौली में नशा मुक्ति अभियान के तहत पुलिस ने 17 अक्टूबर को अलग -अलग स्थानों पर छापेमारी की गई। इस दौरान सैकड़ों लीटर अवैध शर्ब और अन्य मादक पदार्थ जब्त कीये गए। आबकारी एक्ट के तहत पुलिस ने पुलिस ने सभी आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है। थाना जियावन पुलिस ने एनडीपीएस ऐक्ट के 01 ऑरकर्ण के तहत 180 हरे गंज के पेढ़ और 72 किलोग्राम गाँजा जब्त किया। थाना सरई में 20 लीटर अवैध शराब, थाना लँघाडोल में 60 लीटर अवैध शराब, थाना चितरंगी में 14 लीटर अवैध शराब जब्त कीये गए हैं।

बड़वानी में अवैध मादक पदार्थ जब्त

थाना सेंधवा ग्रामीण पुलिस ने खेत के बीच में लगाए गए अवैध गंजे के 86 पौधे जब्त कीये हैं, जिनका कुल वजन 80 किलो 300 ग्राम है। वहीं इसकी कीमत 8 लाख से भी ज्यादा है। इस दौरान सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया और पुलिस ने सभी के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है। दूसरी तरफ सेंधवा शहर पुलिस ने अवैध मादक पदार्थ डोडाचुरा रखने के लिए एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है, आरोपी के पास 1 किलो 700 ग्राम डोडाचुरा बरामद किया गया है।

  कटनी में शराब पीकर गाड़ी चलाना पड़ा महंगा

सड़कों पर भी नशा मुक्ति अभियान जोरों-शोरों से चलाया जा रहा है। शराब पीकर गाड़ी चलाने वाले चालकों को लेकर कटनी पुलिस सख्त है। सोमवार को कटनी में बगैर हेलमेट और शराब पीकर गाड़ी चला रहे व्यक्ति के खिलाफ 15 हजार रुपये का चलान काटा गया। साथ ही उनके लाइसेंस को भी निलंबित किया जाएगा।