डॉ. नरोत्तम मिश्रा : जिनके फैसलों ने समाज की सोच बदल दी

New Year 2023 : अलविदा 2022 – बीते साल में धार्मिक आस्था, हिन्दुवाद और संस्कृति के साथ समाजहित के मामले में प्रदेश को नई पहचान मिली। गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने दूरदर्शी फैसले लिए, पूरे हिंदुस्तान ने इन फैसलों को स्वीकारा, दिल्ली तक सकारात्मक हलचल रही।

फैसले जिन्होंने समाज और हिदुत्व को नई दिशा दिखाई

प्रदेश में हिंदुत्व, धार्मिक आस्था, मंदिरों में फूहड़ता, लव जिहाद, युवाओं को नशे और हथियार के कारोबार में धकेलने जैसे कई काम चलते रहे हैं। इन सभी पर पिछले साल कड़ी कार्रवाई हुई। ये एक्शन लिया प्रदेश के प्रखर हिंदूवादी और सच को सच कहने का साहस रखने वाले गृहमंत्री डॉ.नरोत्तम मिश्रा ने अपने निर्णयों को सियासी लाभ हानि से ऊपर रखकर सिर्फ समाजहित को सर्वोपरि रखकर गृहमंत्री ने ये सारे फैसले लिए। उनके फैसलों को सिर्फ धार्मिक दृष्टि से नहीं देखा जा सकता, ये हिन्दू संस्कृति और परंपरा से जुड़े भी रहे। नशे और हथियारों पर रोक का मकसद युवा पीढ़ी को भटकाव से रोकना रहा। हाल ही में बेशर्म रंग मामले में सेंसर बोर्ड ने बड़ी कार्रवाई की है।

आइये जानते हैं पिछले साल गृहमंत्री द्वारा लिए बड़े फैसले और उनके परिणाम –

एक्शन -1. श्वेता तिवारी का ब्रा और भगवान वाला बयान

टेलीविजन अभिनेत्री श्वेता तिवारी ने भोपाल के एक होटल में वेब सीरीज की शूटिंग के दौरान प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा था कि “मेरी ब्रा का नाप तो भगवान ले रहे हैं”। श्वेता के इस बयान के बाद काफी विवाद हुआ। हिंदू संगठनों ने इस बयान को लेकर कड़ा विरोध जताया था। वहीं मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने इस बयान को लेकर डीआईजी को जांच के आदेश दिए थे। भोपाल के निवासी सोनू प्रजापति ने इस बयान को लेकर श्वेता तिवारी के खिलाफ एफ आई आर दर्ज की थी।

परिणाम – भगवान को लेकर दिए इस बयान पर आखिरकार श्वेता तिवारी ने सार्वजनिक तौर पर माफी मांग ली थी।

एक्शन 2. राष्ट्रीय ध्वज के अपमान पर ई-कॉमर्स कंपनी पर कार्रवाई

गणतंत्र दिवस के मौके पर अमेजॉन और फ्लिपकार्ट जैसी ई-कॉमर्स कंपनियां जूते, पैंट,टी-शर्ट, कैप जैसी वस्तुओं पर राष्ट्रीय ध्वज को प्रिंट कर सेल किया जा रहा था। इस मामले पर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने तत्काल कार्रवाई की । राष्ट्र के अपमान के किसी भी कृत्य को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने डीजीपी को निर्देश दिए कि अमेज़न प्लेटफार्म के विरुद्ध मामला दर्ज करें।

परिणाम – गृहमंत्री के एक्शन लेने के बाद ई कॉमर्स कंपनियों ने अपनी प्रोडक्ट लिस्ट में से उन वस्तुओं को हटा दिया जिन पर राष्ट्रध्वज प्रिंट था या जिन वस्तुओं को लेकर विवाद बढ़ रहा था।

एक्शन 3. नशे और हथियार के कारोबार पर चेतावनी

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने ऑनलाइन शॉपिंग प्लेटफॉर्म अमेजॉन, फ्लिपकार्ट समेत कई अन्य ई-कॉमर्स कंपनी को कड़ी चेतावनी दी थी कि वे अपनी साइट और एप से नशीली वस्तुओं और हथियारों और जानलेवा चीजों को हटा दें।

परिणाम – गृहमंत्री के बयान के बाद ही ई-कॉमर्स कंपनियों ने गंभीरता दिखाई और अपनी सूची से ये आइटम हटाए।

एक्शन 4. बदले सनी लियोनी के गाने “मधुबन में राधिका” के बोल के सुर

बॉलीवुड एक्ट्रेस सनी लियोन का एक गाना रिलीज हुआ था जिसके बोल ‘मधुबन में राधिका नाचे’ को लेकर काफी विवाद हुआ। हिंदू धार्मिक संगठनों ने इसका कड़ा विरोध किया था। मिश्रा ने इसे हिंदुओं की भावना को आहत करने वाला गाना बताया। वहीं गृह मंत्री ने सनी लियोनी से माफी की मांग की। उन्होंने कहा कि हिंदू देवी-देवताओं का अपमान बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। साथ ही उन्होंने ये चेतावनी भी दी कि अगर 3 दिन में ये गाना यूट्यूब से नहीं हटाया जाता है तो सरकार सनी लियोनी और शारिब तोशी के खिलाफ एफआई आर दर्ज कर कार्रवाई करेगी।

परिणाम – गृहमंत्री के इस बयान के कुछ दिन बाद ही सनी लियोनी और शारिब ने माफी मांगी और गाने के बोल को भी बदल लिया गया।

एक्शन 5. डाबर के समलैंगिक जोड़े के करवा चौथ के विज्ञापन पर फटकार

डॉ.मिश्रा ने दो टूक कहा था कि डाबर ने समलैंगिक जोड़े के करवा चौथ मनाने वाले विज्ञापन को वापस नहीं लिया तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। दरअसल, कंपनी के फेम ब्लीच क्रीम के विज्ञापन में एक समलैंगिक जोड़े को करवा चौथ मनाते दिखाया गया था। इस मामले पर गृह मंत्री डॉ. मिश्रा ने कहा था कि, ‘मैं इसे गंभीर मामला मानता हूं क्योंकि इसमें हिंदू त्योहार का सहारा लिया गया है। एक समलैंगिक जोड़े को करवा चौथ मनाते दिखाया गया है। भविष्य में दो मर्दों को भी फेरे लेते दिखाया जा सकता है। यह आपत्तिजनक है।

परिणाम – गृहमंत्री की चेतावनी के बाद समाज के अलग-अलग वर्गों ने इसका विरोध किया।

एक्शन – 6. मंगलसूत्र विज्ञापन पर सब्यसाची को अल्टीमेटम

गृहमंत्री डॉ. मिश्रा की चेतावनी के बाद सब्यसाची मुखर्जी ने मंगलसूत्र का विज्ञापन हटाया था। सब्यसाची के विज्ञापन में एक महिला को ब्रा पहने सिर्फ मंगलसूत्र में दिखाया था। गृहमंत्री ने इसे हिन्दू विवाह के पवित्र चिन्ह का अपमान मानते हुए चेतावनी दी। कहा था कि 24 घंटे में विज्ञापन हटाए वरना सीधे कार्रवाई होगी।

परिणाम – सब्यसाची मुखर्जी ने अपना विवादास्‍पद विज्ञापन हटा लिया है, साथ ही भविष्य में ऐसा न करने की बात भी कही।

एक्शन 7. कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद की किताब अयोध्या पर दो टूक

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद की किताब पर देशभर में भारी बवाल मच गया। मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने सलमान खुर्शीद की अयोध्या मामले पर लिखी किताब पर प्रतिबंध लगाने के संकेत दिए ।

परिणाम – इसके बाद खुर्शीद को लेकर कांग्रेस आलाकमान और दूसरे राज्यों में भी आवाज उठी।

एक्शन 8. व्यापारियों को चेतावनी दी कि चायनीज मांजा नहीं बिकेगा

उज्जैन में चाइनीज मांझा से गला कट जाने के कारण एक छात्रा की मौत हो गई थी। इस मामले को लेकर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने व्यापारियों को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में चायनीज मांजा बेचने पर सख्त कार्रवाई होगी।

परिणाम – उसके बाद जानलेवा चायनीज मांजा बिकना बंद हुआ।अब देश भर में कार्रवाई हो रही है।

एक्शन 9. चाइनीज मांजा मामले में अमेजॉन और फ्लिपकार्ट को चेतावनी

गृहमंत्री डॉ. मिश्रा ने चाइनीज मांझा को लेकर ई कॉमर्स कंपनी “अमेजॉन” और “फ्लिपकार्ट” को चेतावनी दी कि अपनी लिस्ट से चाइनीज मांझा तत्काल हटा दें। वरना मामले में कार्रवाई की जाएगी।

परिणाम – दोनों इ-कॉमर्स कंपनियों ने इसे गंभीरता से लिया