मध्यप्रदेश के अधिकारी-कर्मचारियों को सरकार का बड़ा तोहफा, मिलेगी बड़ी राहत

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना(Corona) की विषम परिस्थिति को देखते हुए शिवराज सरकार(Shivraj government) ने फैसला किया है कि प्रदेश के अधिकारी-कर्मचारी अब प्रदेश के सरकारी अस्पतालो(Government hospital) के साथ-साथ निजी अस्पतालों(Private hospital) में भी अपना इलाज(Treatment) करा सकेंगे। इलाज के लिए प्रयुक्त होने वाली सभी प्रकार की दवाइयों और इन्जेक्शनो का भुगतान राज सरकार करेगी। स्वास्थ आयुक्त संजय गोयल(Health Commissioner Sanjay Goyal) के आदेश में कहा गया है कि यदि कोई कर्मचारी सामान्य परिस्थिति में कोरोना संक्रमित होता है तो उसे सरकार से अनुबंधित एक सौ एक निजी अस्पतालो में इलाज देने की व्यवस्था की गई है।

अस्पताल में भर्ती होने के बाद जब छुट्टी होगी तब इस खर्च का हिसाब किताब अपने विभाग के माध्यम के सिविल सर्जन या अधीक्षक को भेजना होगा जहा से मेडिकल बिलों के भुगतान की कार्रवाई होगी ।इसी के साथ साथ सरकार इस ओर विचार कर रही है कि कांग्रेस सरकार में 12 लाख कर्मचारियों के लिए प्रस्तावित की गई बीमा योजना जल्द लागू की जाए।

उस समय राज्य सरकार को इस बीमा योजना के माध्यम से 400 करोड रुपए मिलने थे लेकिन कर्मचारी संगठन इसके लिए तैयार नहीं हुए थे ।अब राज्य सरकार इस बीमा की प्रीमियम राशि को कम करके नई योजना के रूप में ला सकती है। सरकार के इस कदम से प्रदेश के अधिकारी कर्मचारियों को बड़ी राहत मिलने की उम्मीद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here