कोरोना वैक्सीनेशन में मध्यप्रदेश देश में चौथे स्थान पर, सीएम ने की ये अपील

CONGRESS

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के अब तक 47 प्रतिशत पात्र व्यक्तियों को कोरोना वैक्सीन का पहला डोज लग चुका है, वहीं 9 प्रतिशत लोगों को ही दूसरा डोज लगा है। सीएम शिवराज ने अपील की है कि सभी लोग वैक्सीन का दूसरा डोज़ लगवाने पर विशेष ध्यान दें। कोरोना वैक्सीनेशन में मध्यप्रदेश देश में चौथे स्थान पर है।

केरल-महाराष्ट्र के बढ़ते आंकड़ों ने बढ़ाई चिंता, सामने आया सीएम शिवराज का बड़ा बयान

मुख्यमंत्री शिवराज ने निर्देश दिए कि कोरोना वैक्सीन के दूसरे डोज़ के लिए टीकाकरण केन्द्रों पर अलग व्यवस्था की जाए। गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण के लिए विशेष व्यवस्था को जारी रखने के निर्देश भी दिए गए। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोरोना टीकाकरण का कार्य तेज गति से किया जाए। केन्द्र से प्रदेश को पर्याप्त संख्या में वैक्सीन मिल रही है तथा आगे भी मिलती रहेगी। अब तक 47 फीसदी लोगों को वैक्सीन का पहला डोज़ लग चुका है, जबकि दूसरे डोज को लगवाने वाले लोगों का प्रतिशत काफी कम है। केवल 9 फीसती लोगों को ही वैक्सीन का दूसरा डोज़ लगा है। सीएम ने सभी पात्र लोगों से दूसरा डोज लगवाने की अपील की है।

शुक्रवार को मंत्रालय में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश में कोरोना की स्थिति, तीसरी लहर की तैयारियों तथा टीकाकरण कार्य की समीक्षा बैठक हुई। समीक्षा में पाया गया कि पन्ना, सीधी एवं अलीराजपुर जिलों में तुलनात्मक रूप से वैक्सीनेशन का कार्य धीमा है। इन सभी जिलों में वैक्सीनेशन की गति बढ़ाने के निर्देश दिए गए। सीएम ने कहा  कि वैक्सीनेशन के लिए लोगों को जागरूक किया जाए। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि सभी कलेक्टर अपने-अपने जिलों में तीसरी लहर की तैयारियों में अस्पतालों में बिस्तर बढ़ाने, ऑक्सीजन संयंत्रों की स्थापना, आईसीयू वार्डस, सिटीस्केन और अन्य जाँच व्यवस्थाएँ, आवश्यक दवाओं की व्यवस्था, विशेषज्ञ चिकित्सकों, पैरामेडिकल स्टाफ, तकनीशियन आदि की व्यवस्था समय पर सुनिश्चित करें। इस बैठक में लोक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान, स्वास्थ्य आयुक्त आकाश त्रिपाठी आदि उपस्थित थे।