यहां बारिश के साथ गिरे ओले, ठंड के तेवर हुए तीखे, आगे ऐसा रहेगा मौसम

1370

भोपाल।  मध्य प्रदेश के अलग अलग जिलों में हुई बारिश और हवा का रुख उत्तरी होने से प्रदेश में ठंड एक बार फिर बढ़ गई है| गुरुवार को सबसे कम न्यूनतम तापमान 5 डिग्री श्यौपुरकला में दर्ज किया गया। राजधानी सहित 16 स्थानों पर न्यूनतम तापमान 10 डिग्री से नीचे दर्ज किया गया। कई जिलों में गुरुवार को तीव्र शीतल दिन रहा| वहीं कुछ जिलों में बारिश और ओलावृष्टि हुई, जिसके कारण खरीदी केंद्रों में पुख्ता इंतजाम नहीं होने के कारण किसानों का धान बारिश में भीग गया। 

मौसम वैज्ञानि के मुताबिक उत्तर भारत के पहाड़ी क्षेत्रों में जबरदस्त बर्फबारी हुई है। उधर, पश्चिमी विक्षोभ के उत्तर भारत से गुजरने के बाद मप्र में बादल छंट गए हैं। आसमान साफ होने के साथ ही हवा का रुख उत्तरी होने से बुधवार शाम से ही प्रदेश में ठंड का असर बढ़ गया है। गुरुवार को इंदौर, बैतूल, श्यौपुरकला में तीव्र शीतल दिन रहा। इसके अतिरिक्त भोपाल, उज्जैन, शाजापुर, राजगढ़, सागर, धार, गुना, खंडवा और रतलाम में शीतल दिन रहा। अभी दो दिन में ठंड के तेवर और तीखे होने का अनुमान है।  

कई जिलों में मौसम में आए अचानक बदलाव के बाद बारिश से जनजीवन प्रभावित हुआ वहीं जिले के खरीदी केंद्रों में खुले आसमान के नीचे रखा हजारों क्विंटल धान भीग गया। सतना, रीवा में बुधवार रात हुई बारिश और ओले से किसानों का धान बारिश में भीग गया।  रीवा में बारिश के साथ बुधवार की रात जिले के हुजूर तहसील के अमवां, किटवरियां, अटरिया इसी तरह मनगंवा कठेरी, पतैता,लोहदवार आदि गांव में तथा मउगंज तहसील क्षेत्र के कई गांवों में ओले गिरे है। इसी तरह जिले के तराई अंचल में भी ओले गिरे हैं। ओले व बारिश से फसल के साथ सब्जियों को भी नुकसान हुआ है। अनूपपुर जिले में भी कई स्थानों पर बारिश के साथ ओले गिरे| 

गुरुवार को चार महानगरों का तापमान

शहर अधिकतम न्यूनतम

भोपाल 18.79.4

इंदौर   19.09.4

जबलपुर 19.813.6

ग्वालियर  17.010.5

नोट:-तापमान डिग्री में

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here