मप्र में बढ़ेगी ठंड-छाएगा घना कोहरा, इन जिलों में बारिश और बिजली गिरने का अलर्ट

 भोपाल। मध्य प्रदेश में सर्द हवाओं के कारण ठण्ड जोर पकड़ रही है| आज कुछ स्थानों पर हल्की बारिश हुई तथा राज्य के उत्तर पूर्वी क्षेत्रों में कोहरे ने लोगों की ठंड का अहसास कराया। दो दिन पहले हुई बारिश के कारण तापमान में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है| वहीं मौसम विभाग ने कई जिलों में बिजली गिरने और औले गिरने की भी आशंका जताई है। रीवा शहडोल, जबलपुर, और सागर संभाग के जिलों में गरज चमक के साथ बौछार पड़ने और बिजली गिरने की संभावना है| वहीं कई जिलों में घना कोहरा छा सकता है| 

 राजधानी भोपाल तथा उसके आसपास के क्षेत्र में आज दिन भर ठंड बनी रही। सुबह आसमान में बादल छाए रहने से धुप नहीं निकली जिसके चलते कड़ाके की ठंड देखने का मिली। दोपहर में हल्की धूप निकली, लेकिन शाम होते होते ठंड में एक बार फिर अपने तेवर दिखाने शुरू कर दिए। भोपाल का दिन का तापमान कल के 22़ 8 के मुकाबले चार डिग्री लुढककर 18़ 8 डिग्री पर पहुंच गया जबकि रात का तापमान 14़ 4 डिग्री सेल्सियस रहा, जिसमें हल्का इजाफा हुआ है। विभाग के अगले चौबीस घंटों के दौरान प्रदेश भर में कड़ाके की ठंड का दौर बना रहने का अनुमान जताया गया है। इस बीच कुछ स्थानों पर हल्के बादल तथा कोहरे का भी संभावना है। 

मौसम विभाग के मुताबिक रीवा, सागर, शहडोल, जबलपुर, ग्वालियर, इंदौर, देवास, भोपाल, होशंगाबाद, संभागों के जिलों में मध्यम से घना कोहरा छा जाएगा। यह कोहरा सुबह के समय ही रहेगा| मध्य प्रदेश में मौसम अचानक हुए बदलाव के लिए मौसम विभाग ने जानकारी देते हुए बताया कि राजस्थान के ऊपर एक चक्रवात बन रहा है और अरब सागर से भी नमी का बढ़ना जारी है। इसी कारण मध्य प्रदेश में यह मौसम में बदलाव हुआ है। पिछले चौबीस घंटों के दौरान प्रदेश के सिवनी में 16़ 8 मिमी, पर्यटन नगरी पचमढ़ी में 15़ 4 मिमी, छिंदवाड़ में 7़ 2 मिमी के अलावा मंडला, बैतूल, सीधी और सतना जिलों में कहीं कहीं हल्की बारिश हुयी। इसके चलते प्रदेश भर में कड़ाके की ठंड का दौर प्रारंभ हो गया है। इस बीच राज्य के उत्तर पूर्वी क्षेत्रों में कोहरे ने लोगों की परेशानिया बढ़ा दी है। रीवा शहडोल, जबलपुर और सागर संभागों के जिले तथा बैतूल होशंगाबाद, रायसेन, विदिशा जिलों में गरज चमक के साथ बारिश हो सकती है| 

मप्र में बढ़ेगी ठंड-छाएगा घना कोहरा, इन जिलों में बारिश और बिजली गिरने का अलर्ट